वो देश, जहां अजब-गजब ताबूतों में दफनाए जाते हैं मृत लोग

किसी भी देश में मृत लोगों को दफनाने के लिए ताबूत बनाए जाते हैं। जो बिलकुल साधारण से होते हैं। लेकिन दुनिया का एक ऐसा देश की है जहां लोगों को दफनाने के लिए एकदम अनोखे तरीके के या फिर यूं कह लीजिए की अजब गजब तरीके के ताबूत बनाए जाते हैं। शायद ही आपने
 
वो देश, जहां अजब-गजब ताबूतों में दफनाए जाते हैं मृत लोग

किसी भी देश में मृत लोगों को दफनाने के लिए ताबूत बनाए जाते हैं। जो बिलकुल साधारण से होते हैं। लेकिन दुनिया का एक ऐसा देश की है जहां लोगों को दफनाने के लिए एकदम अनोखे तरीके के या फिर यूं कह लीजिए की अजब गजब तरीके के ताबूत बनाए जाते हैं। शायद ही आपने ऐसे ताबूत को कहीं देखा होगा।

वो देश, जहां अजब-गजब ताबूतों में दफनाए जाते हैं मृत लोग

पश्चिम अफ्रीका में स्थित स्थित खूबसूरत देश घाना अपने अजब गजब ताबूत बनाने के लिए जाना जाता है या मृत लोगों को दफनाने के लिए अनोखे तरीके के ताबूत बनाए जाते हैं , आपको यह जानकर हैरानी होगी कि घाना में इन ताबूतों को मारने वाले के कामकाज स्टेटस से जोड़कर देखा जाता है।

बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक घाना में इस तरह के ताबूतों को बनाने की परंपरा मछुआरों ने शुरू की थी। घाना में मछुआरे समुदाय के लोगों को मछली की तरह बने ताबूत में दफनाया जाता था। वही बिजनेस मेन को अक्सर लग्जरी मर्सिडीज कार की शक्ल वाले ताबूतों में दफनाया जाता था इससे उनका पता चलता था।

घाना में हवाई जहाज की तरह ताबूत को बनाने की शुरुआत साल 1951 में शुरू हुई जो कारपेंटर भाइयों ने अपनी 51 साल की मां के लिए हवाई जहाज की शक्ल वाले ताबूत को बनाया था दरअसल वह कभी विमान में नहीं बैठी थी लेकिन कहती थी कि बॉक्सर विमान में बैठने की सपने देखती हैं।

From around the web