महाराष्ट्र साइबर विभाग ने दी चेतावनी, चीन कर रहा भारत पर साइबर अटैक! आप भी रखें इन बातों का ध्यान..

जैसा कि आप सभी जानते हैं भारत और चीन की सीमा पर तनातनी का माहौल है। पिछले कुछ समय से दोनों देशों के बीच ऐसी तंगी देखी जा रही है। पिछले कुछ दिनों में साइबर अपराध के मामले भी तेजी से बढ़ने लगे हैं। अब महाराष्ट्र सरवर विभाग में एडवाइजरी जारी करके चेतावनी दी है
 
महाराष्ट्र साइबर विभाग ने दी चेतावनी, चीन कर रहा भारत पर साइबर अटैक! आप भी रखें इन बातों का ध्यान..
जैसा कि आप सभी जानते हैं भारत और चीन की सीमा पर तनातनी का माहौल है। पिछले कुछ समय से दोनों देशों के बीच ऐसी तंगी देखी जा रही है। पिछले कुछ दिनों में साइबर अपराध के मामले भी तेजी से बढ़ने लगे हैं। अब महाराष्ट्र सरवर विभाग में एडवाइजरी जारी करके चेतावनी दी है कि चीन के साइबर अपराधी बड़े स्तर पर फिशिंग हमले की प्लानिंग कर रहे हैं।

महाराष्ट्र साइबर विभाग ने दी चेतावनी, चीन कर रहा भारत पर साइबर अटैक! आप भी रखें इन बातों का ध्यान..राजस्व विभाग द्वारा एक खास आएगी यादव द्वारा बताया गया है कि पिछले चार-पांच दिनों में भारत के साइबर सोचना बैंकिंग और इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़े हुए हैं। उन पर चीन द्वारा हमला किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि कम से कम ऐसे 40,300 साइबर हमलों की कोशिश की गई है, जिसमें अधिकतर की ट्रेसिंग चीन के चिंगुड़ी क्षेत्र से हुई है।

आपको बता दें कि साइबर विभाग ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि इस अटैक का शिकार सरकारी विभाग ट्रेंड एसोसिएशन और एजेंसियां हो सकते हैं, जिन्हें सरकारी वित्तीय सहायता का वितरण देखने को कहा गया होगा। इतना ही नहीं, एडवाइजरी में यह भी बताया गया कि फिशिंग ईमेल के लिए ईमेल आईडी का इस्तेमाल किया जा रहा है। वह ncov2019@gov.in है, इस ग्रुप के पास 20 लाख ईमेल एड्रेस होने का दावा किया जा रहा है। ऐसे में साइबर विभाग ने कुछ सावधानियां बरतने के लिए कहां है जो कुछ इस प्रकार हैं।
यदि किसी प्रकार का इमेल वेबसाइट में वर्तनी की जलती और अज्ञात इमेज भेजे जा रहे हैं तो उन से सावधान रहें।
जिन साइट या लिंक को लेकर जानकारी नहीं है, उन पर निजी वित्तीय डिटेल्स ना भरें।
ऐसे ईमेल या लिंग से चौकन्ना रहे जो खास ऑफर के साथ हो, जैसे कोविद 19 testing, covid-19 मदद, इनामी राशि, कैशबैक ऑफर आदि।
सोशल मीडिया पर किसी अनचाहे ईमेल s.m.s. यह मैसेज के साथ दी गई अटैचमेंट को खोल कर ना देखें, ना ही उस पर क्लिक करें।

From around the web