जिस लोगो की कुंडली में होता है ये अशुभ योग, उनको मिलते है सबसे ज्यादा धोखे 
 

 
cc

फलित ज्योतिष में कई शुभ योगों के बारे में बताया गया है इन्हीं में से एक होता है षड्यंत्र हो यह योग किस जिस व्यक्ति की कुंडली में होता है उसे अपने जीवन में अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है कई बार अपने ही लोगों ने धोखा दे देते हैं और किसी वाद विवाद में फंसा देते हैं आगे बताते हैं कि कैसे बनता है आखिरकार यारों योग कैसे प्रभाव देता है और इसके खास उपाय।

cc

सबसे पहले जानते हैं कि आगे क्या होता है षड्यंत्र हो यदि लग्नेश आठवें घर में बैठा है और उसके साथ कोई दूसरा ग्रह ना हो तो सर यंत्रों का निर्माण होता है अर्थात लग्नेश अष्टम भाव में विराजमान हो तो उस लग्नेश व लग्न पर अशुभ ग्रहों की दृष्टि हो किसी शुभ ग्रह की दृष्टि ना हो तो लग्नेश और अष्टमेश दोनों का पाप प्रभाव नजर आ जाए तो व्यक्ति बहुत बड़े षड्यंत्र का शिकार होता है।

जिस व्यक्ति की कुंडली में यह योग बनता है वह अपने किसी करीबी के षड्यंत्र का शिकार होता है जैसे धोखे से धनिया किसी भी प्रकार की संपत्ति को छीना जाना विपत्ति लिंगी द्वारा मुसीबत पैदा करना व्यापार में धोखा देना जीवन साथी से धोखा मित्र से धोखा या किसी करीब से दो का मिलना इसके चलते मान सम्मान को नुकसान पहुंचता है।

प्रतिदिन हनुमान चालीस का पाठ करते रहना चाहिए प्रत्येक सोमवार को भगवान शिव और भगवान शिव के परिवार की पूजा करनी चाहिए प्रतिदिन माथे पर केसरिया चंदन का तिलक लगाना चाहिए कभी-कभी शनिवार को छाया दान करना चाहिए विश्वास करें लेकिन किसी पर भी अंधे बनकर विश्वास नहीं करना चाहिए
 

From around the web