चाणक्य नीति: अक्सर सीधे लोग और सीधे पेड़ को ही सबसे पहले काटा जाता है

आचार्य चाणक्य की बताई गई नीतियां जीवन को सफल बनाने के लिए काफी ज्यादा महत्वपूर्ण मानी जाती हैं। आचार्य ने युवाओं को अपनी ऊर्जा का सही उपयोग करने की सलाह देते हुए कई सारे सूत्र बताए। चाणक्य के मुताबिक सेवा सबकी करनी चाहिए। लेकिन दूसरों की सेवा मैं खुद को अनदेखा नहीं करना चाहिए।
 
चाणक्य नीति: अक्सर सीधे लोग और सीधे पेड़ को ही सबसे पहले काटा जाता है

आचार्य चाणक्य की बताई गई नीतियां जीवन को सफल बनाने के लिए काफी ज्यादा महत्वपूर्ण मानी जाती हैं। आचार्य ने युवाओं को अपनी ऊर्जा का सही उपयोग करने की सलाह देते हुए कई सारे सूत्र बताए।

चाणक्य नीति: अक्सर सीधे लोग और सीधे पेड़ को ही सबसे पहले काटा जाता है

 

चाणक्य के मुताबिक सेवा सबकी करनी चाहिए। लेकिन दूसरों की सेवा मैं खुद को अनदेखा नहीं करना चाहिए। जो युवा दूसरों सेवा में अपना ध्यान नहीं रखते हुए जीवन का अनमोल समय गवा देते हैं। चाणक्य कहते हैं कि संसार में सीधे वृक्ष और सीधे लोग ही सबसे पहले काटे जाते हैं। जो व्यक्ति अपने को बुलाकर दूसरों की सेवा करता है वह अंत में खाली ही रह जाता है।

चाणक्य के मुताबिक गुस्सा इंसान का सबसे बड़ा दुश्मन होता है। क्रोध में आते ही व्यक्ति की सोचने समझने की शक्ति भी खत्म हो जाती है इसलिए युवाओं को क्रोध पर नियंत्रण रखना चाहिए। युवाओं को हमेशा लालच से दूर रहना चाहिए युवा किसी लालच में फंसने के लिए नहीं वरन जीवन निर्माण के लिए बने हैं। चाणक्य कहते हैं कि युवाओं को स्वाद नहीं बल्कि सेहत पर ध्यान देना चाहिए। जिससे स्वास्थ के लिए स्वास्थ्य के लिए हानिकारक चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।

From around the web