गुरुग्राम के अस्पताल में ऑक्सीजन संकट, 7 कोविड रोगियों की मौत

 
गुरुग्राम के अस्पताल में ऑक्सीजन संकट, 7 कोविड रोगियों की मौतगुरुग्राम, 1 मई (आईएएनएस)। गुरुग्राम के सेक्टर 56 स्थित कृति अस्पताल में शुक्रवार रात ऑक्सीजन की कमी के कारण कम से कम 7 कोरोना मरीजों की मौत हो गई।

मृतक के परिजनों ने अस्पताल परिसर के अंदर हंगामा खड़ा कर दिया। कुछ परिवार के सदस्यों ने अस्पताल के बाहर विरोध प्रदर्शन भी किया।

कथित तौर पर मृतक के परिवार ने पुलिस से संपर्क किया और उनके हस्तक्षेप से शेष कोविड रोगियों की जान बचाई जा सकी।

सेक्टर 56 पुलिस स्टेशन के अतिरिक्त स्टेशन हाउस ऑफिसर सब इंस्पेक्टर दलपत सिंह ने आईएएनएस को बताया, हमें घटना के बारे में एक सूचना मिली है और थाना सेक्टर -56 की एक टीम को पीड़ित परिवार के सदस्यों को शांत करने के लिए घटनास्थल पर भेजा गया। जांच के बाद मौतों के कारणों का पता लगाया जाएगा। अभी तक कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई है।

एक मरीज के परिवार के सदस्य ने मीडियाकर्मियों को बताया, अस्पताल में लगभग 20 कोविड रोगियों को भर्ती किया गया था। शुक्रवार को लगभग 8 बजे रात मरीजों की स्थिति बिगड़ने लगी और अस्पताल प्रबंधन ने हमें तरल ऑक्सीजन की कमी के बारे में सूचित नहीं किया। इसके अलावा, अस्पताल के डॉक्टर मौके से भाग गए। अस्पताल में मौजूद लोग उल्टी और बेहोशी की शिकायत कर रहे थे।

हालांकि, परिवार के कुछ अन्य सदस्यों ने दावा किया कि पुलिस को सूचित किए जाने के बाद ही अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर और डॉक्टरों की व्यवस्था की जा सकी।

अस्पताल में मौजूद रोगी के एक परिजन ने मीडियाकर्मी से कहा, यह अस्पताल की ओर से घोर लापरवाही थी। लगभग 20 कोविड मरीजों को बिना ऑक्सीजन बैकअप के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अस्पताल के डॉक्टरों ने ऑक्सीजन की कमी के बारे में कुछ भी नहीं बताया था। दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए।

इस बीच, कई कॉल प्रयासों और संदेश के बावजूद, अस्पताल प्रबंधन से कोई भी टिप्पणी के लिए उपलब्ध नहीं था।

गुरुग्राम में शुक्रवार को 4,435 नए कोविड मामले दर्ज किए गए। वर्तमान में, जिले में 36,693 सक्रिय मामले हैं, जिनमें से 33,998 होम आइसोलेशन में हैं।

इस बीच, शुक्रवार को शहर में कोविड की वजह से 14 मौतें हुईं, जिससे यहां इस महामारी से मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 476 हो गई।

--आईएएनएस

आरएचए/आरजेएस

From around the web