जब एक टेस्ट पारी में बने 900 रन, इस टीम ने हासिल की थी टेस्ट इतिहास की सबसे बड़ी जीत

जब एक टेस्ट पारी में बने 900 रन, इस टीम ने हासिल की थी टेस्ट इतिहास की सबसे बड़ी जीत
 
जब एक टेस्ट पारी में बने 900 रन, इस टीम ने हासिल की थी टेस्ट इतिहास की सबसे बड़ी जीत

टेस्ट क्रिकेट इतिहास में सबसे पहले एक पारी में 900 रन का पहाड़ खड़ा करने का कारनामा इंग्लैंड ने किया था. ओवल में खेले गए इस मैच में इंग्लिश कप्तान वॉली हेमंड ने 903/7 के स्कोर पर पारी घोषित कर दी थी. वरना टीम उस दिन 1000 रन का आंकड़ा भी पार कर जाती. 

जब एक टेस्ट पारी में बने 900 रन, इस टीम ने हासिल की थी टेस्ट इतिहास की सबसे बड़ी जीत

इंग्लैंड का यह रिकॉर्ड 59 साल तक बरकरार रहा. लेकिन फिर 1997 में श्रीलंका ने भारत के विरुद्ध टेस्ट मैच की एक पारी में 952 रन बनाकर इंग्लैंड का यह रिकॉर्ड तोड़ डाला, जो आज तक बरकरार है. 1938 में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने इंग्लैंड दौरा किया था और पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेली थी. 

सीरीज का आखिरी मुकाबला 20 अगस्त से ओवल में खेला जाना था. इस मैच में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का निर्णय किया और पहले बल्लेबाजी करते हुए 903/7 के स्कोर पर पारी घोषित कर दी. इस पारी में इंग्लैंड की तरफ से एक तिहरा शतक, दो शतक और दो अर्धशतक लगे थे. 

ऑस्ट्रेलिया के लिए इंग्लैंड से मिले लक्ष्य का पीछा करना आसान नहीं था. पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया की टीम 201 रन पर ही ढेर हो गई. फिर ऑस्ट्रेलिया की टीम दूसरी पारी में फॉलोऑन खेलने उतरी और 123 रन पर ही सिमट गई. ऑस्ट्रेलिया का कोई भी बल्लेबाज 50 रन का आंकड़ा पार नहीं कर पाया था. इस मैच में ऑस्ट्रेलिया की टीम एक पारी और 579 रन के अंतर से हारी थी. कोई भी टीम टेस्ट क्रिकेट इतिहास में एक पारी और इतने बड़े अंतर से नहीं जीत पाई है.

From around the web