टीम इंडिया के ये स्टार क्रिकेटर जीत चुके हैं वर्ल्ड कप, लेकिन रणजी ट्रॉफी पर नहीं कर सके कब्जा

टीम इंडिया के ये स्टार क्रिकेटर जीत चुके हैं वर्ल्ड कप, लेकिन रणजी ट्रॉफी पर नहीं कर सके कब्जा
 
टीम इंडिया के ये स्टार क्रिकेटर जीत चुके हैं वर्ल्ड कप, लेकिन रणजी ट्रॉफी पर नहीं कर सके कब्जा

क्रिकेट का कोई भी फॉर्मेट हो, हर खिलाड़ी खिताब जीतने का सपना देखता है. टीम इंडिया में भी कई ऐसे खुशनसीब खिलाड़ी रहे जिन्होंने एक नहीं बल्कि दो-दो बार आईसीसी की ट्रॉफी हाथ में उठाई. लेकिन कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे जो भारत के सबसे घरेलू प्रतिष्ठित टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी चैंपियन टीम का हिस्सा नहीं बन पाए. आज हम आपको उन्हीं खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने दो बार विश्व कप की ट्रॉफी उठाई, लेकिन वो एक भी बार विश्व कप की ट्रॉफी नहीं जीत सके. 

टीम इंडिया के ये स्टार क्रिकेटर जीत चुके हैं वर्ल्ड कप, लेकिन रणजी ट्रॉफी पर नहीं कर सके कब्जा

एम एस धोनी 

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज एम एस धोनी की गिनती बेहतरीन कप्तानों में की जाती है. धोनी दुनिया के एकमात्र कप्तान हैं जिन्होंने आईसीसी की तीन ट्रॉफी जीती हैं. लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि धोनी अपने पूरे क्रिकेट करियर में कभी भी रणजी ट्रॉफी नहीं जीत सके. 2000 में माही ने बिहार की तरफ से रणजी में डेब्यू किया था. लेकिन झारखंड और बिहार का बंटवारा होने के बाद वह झारखंड की ओर से इस टूर्नामेंट में खेलने लगे. लेकिन कभी भी धोनी रणजी ट्रॉफी नहीं जीत पाए. 

युवराज सिंह

युवराज सिंह भारतीय टीम के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर में शामिल किए जाते हैं. युवराज सिंह ने टीम इंडिया को 2007 के टी-20 विश्व कप और 2011 के वर्ल्ड कप में जीतने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. युवराज सिंह ने 1997 से ही डोमेस्टिक क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था. लेकिन वो अपनी टीम पंजाब की ओर से एक भी बार रणजी ट्रॉफी नहीं जीत सके.

From around the web