वो मैच जब 32 रन की पारी घोषित होने के बावजूद टीम जीतने में रही थी कामयाब

वो मैच जब 32 रन की पारी घोषित होने के बावजूद टीम जीतने में रही थी कामयाब
 
वो मैच जब 32 रन की पारी घोषित होने के बावजूद टीम जीतने में रही थी कामयाब

ऑस्ट्रेलिया की टीम क्रिकेट जगत की सबसे बेहतरीन टीमों में से एक है. ऑस्ट्रेलियाई टीम मुश्किल से मुश्किल परिस्थितियों में भी जीत हासिल करने में कामयाब रहती है. ऑस्ट्रेलिया की टीम ने कई बार हारे हुए मैच भी जीते हैं. ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों का रवैया हमेशा आक्रामक होता है. सर डोनाल्ड ब्रैडमैन ने जब संन्यास लिया तो उसके बाद जब पहली एशेज सीरीज खेली गई थी तो उस सीरीज में एक मुकाबला बहुत ही दिलचस्प रहा था.

वो मैच जब 32 रन की पारी घोषित होने के बावजूद टीम जीतने में रही थी कामयाब

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच गब्बा में लिंडसे हस्सेट के नेतृत्व में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने मुकाबला खेला था. पहले मैच में टॉस जीतकर मेजबान टीम पहले बल्लेबाजी करने उतरी. उस मैच में ऑस्ट्रेलिया की टीम पहली पारी में 228 रन पर सिमट गई. दूसरे दिन तेज आंधी के चलते खेल रोकना पड़ा था. तीसरे दिन रेस्ट डे था.

जब चौथे दिन इंग्लैंड की टीम बल्लेबाजी करने उतरी तो ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने 68 रन पर ही 7 खिलाड़ियों को आउट कर दिया. इस तरह से इंग्लैंड की टीम ने अपने पुछल्ले बल्लेबाजों को चोट से बचाने के लिए 7 विकेट गिर जाने पर ही पारी घोषित कर दी थी.

दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया की टीम शून्य पर अपने तीन विकेट गंवा दिए. 32 रन के स्कोर पर ऑस्ट्रेलिया के सात बल्लेबाज आउट हो चुके थे. लेकिन फिर भी आस्ट्रेलियाई टीम ने पारी घोषित कर दी. यह देखकर हर कोई हैरान था. लेकिन जब इंग्लैंड की टीम बल्लेबाजी करने उतरी तो उन्हें जीत के लिए 193 रन की जरूरत थी और इंग्लैंड की टीम 122 रन पर ढेर हो गई थी. उस समय किसी ने भी इस बात की उम्मीद नहीं की थी कि 32 रन पर पारी घोषित करने के बावजूद ऑस्ट्रेलिया की टीम यह मुकाबला जीत जाएगी.

From around the web