क्रिकेट इतिहास का वो विवादित मैच जिसकी प्रधानमंत्री ने भी की थी आलोचन, बल्लेबाज ने गुस्से में पटक दिया था बैट

क्रिकेट इतिहास का वो विवादित मैच जिसकी प्रधानमंत्री ने भी की थी आलोचन, बल्लेबाज ने गुस्से में पटक दिया था बैट
 

क्रिकेट इतिहास में कई ऐसे मुकाबले रहे जिन पर जमकर विवाद हुआ. कई खिलाड़ियों को मैदान पर बेईमानी करते हुए भी देखा गया. आज हम आपको क्रिकेट इतिहास के उस विवादित मैच के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश के प्रधानमंत्री ने भी आलोचना की थी. इस घटना को अंडरआर्म 1981 के नाम से जाना जाता है. कुछ लोग इसे ब्लैक अंडरआर्म्स के नाम से भी जानते हैं. इस मैच में क्रिकेट के सारे नियमों को ताक पर रखकर जीता गया था. 

क्रिकेट इतिहास का वो विवादित मैच जिसकी प्रधानमंत्री ने भी की थी आलोचन, बल्लेबाज ने गुस्से में पटक दिया था बैट

1981 में न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज का आखिरी मुकाबला खेला गया था. अंतिम पलों में मैच 1 गेंद में न्यूजीलैंड की टीम को जीत के लिए 6 रनों की जरूरत थी. अंतिम ओवर ऑस्ट्रेलिया के कप्तान ग्रेग चैपल के भाई ट्रेवर चैपल करा रहे थे. ग्रेग चैपल को अंदेशा हुआ कि ट्रेवर की अंतिम गेंद पर छक्का ना पड़ जाए. इसलिए उन्होंने ट्रेवर  को कहा कि वो जमीन पर लुढ़कती हुई गेंद डाले. पहले तो ट्रेवरने इस बात को नैतिकता के खिलाफ बताते हुए इनकार कर दिया. लेकिन उन्होंने भाई की बात मानकर अंडरआर्म्स गेंद फेंकी. 

इस कारण न्यूजीलैंड की टीम गुस्से में आ गई और बल्लेबाज ने मैदान पर ही बल्ला पटक दिया. उस दौर में अंडरआर्म गेंद फेंकने की मनाही थी. उस समय रॉबर्ट मूल्डून न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री थे. वह क्रिकेट के शौकीन माने जाते थे. ऐसा कहा जाता है कि प्रधानमंत्री ऑस्ट्रेलियन टीम की सरकार से बहुत नाराज थे. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया स्तर पर इसको खेल भावना के विरुद्ध बताते हुए कड़ी आलोचना की थी.

From around the web