भारत को वर्ल्ड कप जिताने वाला वो गेंदबाज, जिसकी फिर कभी नहीं हुई टीम इंडिया में वापसी

भारत को वर्ल्ड कप जिताने वाला वो गेंदबाज, जिसकी फिर कभी नहीं हुई टीम इंडिया में वापसी
 
भारत को वर्ल्ड कप जिताने वाला वो गेंदबाज, जिसकी फिर कभी नहीं हुई टीम इंडिया में वापसी

क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है. क्रिकेट के खेल में खिलाड़ियों को हमेशा ही एक ऐसे मैच का इंतजार रहता है जिससे उनकी किस्मत पूरी तरह से पलट जाती है. आज हम आपको एक ऐसे ही क्रिकेटर के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने T20 वर्ल्ड कप में गोल्डन ओर डाला. इस गेंदबाज ने टीम इंडिया को विश्व कप दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. लेकिन इस खिलाड़ी की टीम इंडिया में कभी वापसी नहीं हुई. 

भारत को वर्ल्ड कप जिताने वाला वो गेंदबाज, जिसकी फिर कभी नहीं हुई टीम इंडिया में वापसी

हम बात कर रहे हैं 2007 के टी-20 विश्व कप में गोल्डन ओवर फेंकने वाले क्रिकेटर जोगिंदर शर्मा की. जिनके एक ओवर में पाकिस्तानी क्रिकेटर मिस्बाह-उल-हक ने हवा में उछाल दिया था. लेकिन अगले ही पल श्रीसंत ने कैच पकड़ा और भारतीय टीम ने इतिहास रच दिया .जोगिंदर शर्मा की एक गेंद ने पाकिस्तान से मैच और खिताब दोनों ही छीन लिया. मैच के बाद जोगिंदर शर्मा हीरो बन गए. मीडिया में उनके लगातार इंटरव्यू आने लगे. लेकिन पता नहीं ऐसा क्या हुआ कि उन्हें दोबारा टीम इंडिया में कभी नहीं चुना गया और उनका करियर खत्म हो गया. 

जोगिंदर शर्मा ने 2004 में बांग्लादेश के खिलाफ अपने करियर की शुरुआत की थी. एक समय पाकिस्तान को अंतिम ओवर में जीत के लिए 13 रनों की जरूरत थी और केवल एक ही विकेट बचा था. जोगिंदर शर्मा ने वो एक विकेट गिराकर भारतीय टीम को जीत दिलाई. 2011 में जोगिंदर शर्मा का एक्सीडेंट हो गया. उनके सिर में गंभीर चोटें आई. इस वजह से उन्हें लंबे समय तक आईसीयू में रहना पड़ा. हादसे के बाद जोगिंदर शर्मा ठीक हो गए. लेकिन वो कभी भी टीम इंडिया में वापसी नहीं कर पाए. अब जोगिंदर शर्मा लंबे समय से हरियाणा पुलिस में बतौर डीएसपी कार्य कर रहे हैं.

From around the web