सरकारी क्लर्क के बेटे ने सचिन को आउट कर तोड़ा था करोड़ों भारतीय प्रशंसकों का दिल, वर्ल्ड कप में ली थी हैट्रिक

पाकिस्तान के दिग्गज गेंदबाज सकलैन मुश्ताक की गिनती बेहतरीन खिलाड़ियों में की जाती है. सकलैन मुश्ताक के फैन के लिए 11 जून का दिन बेहद ही खास है. बता दें कि इस दिन सकलैन ने विश्व कप में हैट्रिक ली थी. जब पाकिस्तान ने जिंबाब्वे की टीम को 148 रनों के बड़े अंतर से मात
 
सरकारी क्लर्क के बेटे ने सचिन को आउट कर तोड़ा था करोड़ों भारतीय प्रशंसकों का दिल, वर्ल्ड कप में ली थी हैट्रिक

पाकिस्तान के दिग्गज गेंदबाज सकलैन मुश्ताक की गिनती बेहतरीन खिलाड़ियों में की जाती है. सकलैन मुश्ताक के फैन के लिए 11 जून का दिन बेहद ही खास है. बता दें कि इस दिन सकलैन ने विश्व कप में हैट्रिक ली थी. जब पाकिस्तान ने जिंबाब्वे की टीम को 148 रनों के बड़े अंतर से मात दी थी. वह विश्व कप में हैट्रिक लेने वाले दूसरे गेंदबाज बने थे. सकलैन मुश्ताक वनडे में 2 बार हैट्रिक लेने वाले वसीम अकरम के बाद दूसरे खिलाड़ी बने. उन्होंने यह उपलब्धि 1999 में हासिल की थी.

सरकारी क्लर्क के बेटे ने सचिन को आउट कर तोड़ा था करोड़ों भारतीय प्रशंसकों का दिल, वर्ल्ड कप में ली थी हैट्रिक

जिंबाब्वे की टीम के अंतिम तीन खिलाड़ियों को उन्होंने पवेलियन का रास्ता दिखाया था और पाकिस्तान की टीम पाकिस्तान की जीत में अहम भूमिका निभाई थी. लेकिन इस मैच में मैन ऑफ द मैच पारी सईद अनवर रहे, जिन्होंने 103 रन की शतकीय पारी खेली. सकलैन मुश्ताक का पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के साथ भी जोड़ जाता है. उन्होंने 1999 में सचिन तेंदुलकर पवेलियन का रास्ता दिखाया था.

सरकारी क्लर्क के बेटे ने सचिन को आउट कर तोड़ा था करोड़ों भारतीय प्रशंसकों का दिल, वर्ल्ड कप में ली थी हैट्रिक

बहुत ही कम लोगों के इस बारे में पता होगा कि सकलैन मुश्ताक के पिता सरकारी क्लर्क के तौर पर नौकरी किया करते थे. एक इंटरव्यू में सकलैन मुश्ताक ने कहा था- सचिन तेंदुलकर से उनका नाम जोड़ना गर्व की बात है. ऊपरवाला उस दिन मेरी तरफ था. मैंने यही सोचा था कि मैं मास्टर ब्लास्टर को आउट करूंगा. लेकिन जब ईश्वर प्लान बनाए तो उसे बदल नहीं सकते. आखरी सांस तक मैं इस बात पर गर्व महसूस करूंगा कि मैंने उस दिन सचिन को आउट किया था. मेरा नाम उनके नाम के साथ जुड़ा रहेगा.

From around the web