एशिया चैंपियन मुक्केबाज डिंको सिंह का निधन (लीड-1)

 
एशिया चैंपियन मुक्केबाज डिंको सिंह का निधन (लीड-1)नई दिल्ली, 10 जून (आईएएनएस) एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता मुक्केबाज डिंको सिंह का गुरुवार को मणिपुर में निधन हो गया। वह 42 साल के थे और पिछले कुछ समय से लीवर के कैंसर से पीड़ित थे।

डिंको ने 1998 में बैंकॉक एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। इसके बाद उन्हें अर्जुन अवार्ड और पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वह लीवर के कैंसर से जूझ रहे थे। वह पिछले साल कोरोना पॉजिटिव भी पाए गए थे।

पिछले साल जनवरी में उनके लीवर का भी इलाज किया गया था और इसके लिए उन्हें अपना घर भी बेचना पड़ा था। वह 2018 से ही कैंसर से जूझ रहे थे।

डिंको को कैंसर के इलाज के लिए पिछले साल अप्रैल में स्पाइसजेट एयर एम्बुलेंस के माध्यम से इम्फाल से दिल्ली लाया गया था।

डिंको के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, डिंको सिंह एक स्पोर्टिग सुपर स्टार थे। वह एक शानदार मुक्केबाज थे जिन्होंने देश के लिए कई पदक जीते और बॉक्सिंग की लोकप्रियता बढ़ाने में अपना योगदान दिया। उनके निधन से दुख पहुंचा। डिंको के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने डिंको के निधन पर संवेदना प्रकट करते हुए कहा, डिंको सिंह के निधन से मुझे गहरा दुख हुआ है। भारत के अब तक के सबसे बेहतरीन मुक्केबाजों में से एक थे। 1998 के बैंकाक एशियाई खेलों में डिंको के स्वर्ण पदक ने भारत में बॉक्सिंग चेन रिएक्शन को जन्म दिया। मैं शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना प्रकट करता हूं।

2008 बीजिंग ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता मुक्केबाज विजेंदर सिंह ने कहा, उनके निधन पर मैं अपनी गहरी संवेदना प्रकट करता हूं। उनके जीवन की यात्रा और संघर्ष हमेशा आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा का स्रोत बने रहें। मैं प्रार्थना करता हूं कि शोक संतप्त परिवार को दुख की इस घड़ी में शोक से उबरने की शक्ति मिले।

-- आईएएनएस

एसकेबी/आरजेएस

From around the web