रामलीला-नवरात्रि कार्यक्रम में बड़े ब्लास्ट की थी योजना, 6 राज्यों के 15 बड़े शहर थे आतंकियों के निशाने पर

 
A

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और यूपी एटीएस ने संयुक्त ऑपरेशन में जिन आतंकियों को गिरफ्तार किया है, उनके निशाने पर महाराष्ट्र, दिल्ली, यूपी जैसे 6 राज्यों के 15 बड़े शहर थे. आतंकियों ने इन शहरों की रेकी की थी और बड़े पैमाने पर वह सीरियल ब्लास्ट करने की योजना बना रहे थे. पकड़े गए संदिग्धों और उनके नेटवर्क के लोगों को अलग-अलग काम की जिम्मेदारी मिली थी.

A

जांच कर रहे एक अधिकारी ने इस बात का खुलासा किया है. ओसामा नाम के गिरफ्तार हुए आतंकी की मुलाकात ओमान में इलाहाबाद के निवासी जीशान से हुई थी. ये दोनों मिलकर पाकिस्तान में ट्रेनिंग लेकर भारत पहुंचे. जीशान ने 15-16 बांग्ला साथी लोगों को भी ट्रेनिंग में शामिल किया था. बाद में ये लोग अलग-अलग समूहों में बंट गए. लेकिन जीशान और ओसामा एक ही ग्रुप में रहे.

खबर के मुताबिक, तीन पाकिस्तान नागरिक भी इनके साथ फार्म हाउस में थे. 2 जब्बारंद हमजा ने उन्हें ट्रेनिंग दी, जो पाकिस्तानी सेना के लिए काम करते थे. इन लोगों को रोजमर्रा की वस्तुओं से बम बनाने, आईईडी बनाने की ट्रेनिंग दी गई, जिसके बाद उन्हें मस्कट ले जाया गया और फिर यह भारत लौट आए.

इसके बाद इन आतंकवादियों ने भारत के कई बड़े शहरों की रेकी शुरू कर दी और अपने काम में जुट गए. इन आतंकियों को सीमा पार से निर्देशन दिए जा रहे थे. यह आतंकी दाऊद इब्राहिम के भाई अनीस इब्राहिम के भी संपर्क में थे और उन्हें हथियार भी वही उपलब्ध करा रहा था.

From around the web