बिहार में लॉकडाउन की स्थिति नहीं, परिस्थिति ठीक हो इस पर सरकार कर रही कार्य : मंगल पांडेय

 
बिहार में लॉकडाउन की स्थिति नहीं, परिस्थिति ठीक हो इस पर सरकार कर रही कार्य : मंगल पांडेयपटना, 6 अप्रैल (आईएएनएस)। बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है, वहीं राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने मंगलवार को कहा कि राज्य में लॉकडाउन की स्थिति नहीं है। उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों की तुलना में हम बेहतर स्थिति में हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की बजाय परिस्थिति ठीक हो इस पर सरकार कार्य कर रही है।

पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि पिछले एक-डेढ़ महीने से देश के कई राज्यों में कोरोना के मरीज बढ़ रहे थे, इसे देखते हुए हमने राज्य में तैयारी प्रारंभ कर ली थी। उन्होंने कहा कि बिहार सरकार सतर्क है।

उन्होंने कहा, कोरोना मरीजों की जांच और स्वास्थ्य देखभाल की सुविधा बढ़ा दी गई है। पिछले दिनों जांच की संख्या एक दिन में 20 हजार हो गई थी, जिसे बढ़ाकर 75 हजार कर दिया गया है। कोरोना जांच रोज हो रही हैं, लेकिन 1 लाख रोजाना जांच हो इस लक्ष्य पर सरकार काम कर रही है।

मंगल पांडेय ने कहा कि अस्पतालों में बेडों की संख्या बढ़ा दी गई है। बिहार में कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या के बाद लॉकडाउन के संबंध में पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में कहा, अन्य राज्यों की तुलना में यहां मरीेजों की संख्या कम है। अभी बिहार में हालात वैसे नहीं हुए हैं। बिहार में अभी कोरोना मरीजों की संख्या नियंत्रित है, इसलिए लॉकडाउन पर बिहार सरकार अभी विचार नहीं कर रही है। लॉकडाउन की बजाय परिस्थिति ठीक हो इस पर सरकार कार्य कर रही है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक हो रही है। इस बैठक में राज्य के सभी जिलाधिकारी, पुलिस अधिकारी और सिविल सर्जन हिस्सा ले रहे हैं। केंद्र सरकार भी लगातार राज्य सरकार के साथ संपर्क में है।

उल्लेखनीय है कि बिहार में सोमवार को इस साल एक दिन में सबसे अधिक 935 कोरोना के नए मरीज मिले थे। राज्य में फिलहाल कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 4143 है।

--आईएएनएस

एमएनपी/एएनएम

From around the web