डीजल ऑटो को ई-रिक्शा से बदलने की कवायद में जुटा गुरुग्राम नगर निगम

 
डीजल ऑटो को ई-रिक्शा से बदलने की कवायद में जुटा गुरुग्राम नगर निगमगुरुग्राम, 6 अप्रैल (आईएएनएस)। गुरुग्राम नगर निगम (एमसीजी) अपनी एक अनूठी पहल के तहत शहर में चलने वाले डीजल ऑटो को हटाने की कवायद में जुट गया है। शहर को प्रदूषण मुक्त बनाने के उपाय के रूप में उनकी जगह ई-रिक्शा को संचालित करने की तैयारी है। एमसीजी के अधिकारियों ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी।

एमसीजी जोन-4 के अतिरिक्त आयुक्त जसप्रीत कौर ने कहा कि इस अनूठी पहल के हिस्से के रूप में बुधवार को एक विशेष बैठक आयोजित की जाएगी। इस बैठक में यातायात अधिकारियों और क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण (आरटीए), गुरुग्राम के अधिकारी भी शामिल होंगे।

कौर ने कहा, शहर को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए बैठक में ई-रिक्शा मालिकों और ड्राइवरों के साथ बातचीत आयोजित की जाएगी। गुरुग्राम नगर निगम ने पहले चरण में लगभग 2,000 डीजल ऑटो के स्थान पर ई-रिक्शा चलाने का फैसला किया है।

उसने कहा कि ई-रिक्शा मालिकों को आरटीए विभाग द्वारा 72 घंटे के भीतर पंजीकरण प्रमाणपत्र प्रदान किया जाएगा। इसके साथ ही एक रियायतकर्ता के माध्यम से डीजल ऑटो के स्थान पर ई-रिक्शा लेने वालों को एमसीजी द्वारा 30,000 रुपये का अनुदान दिया जाएगा, बशर्ते कि वे ई-रिक्शा सरकारी विभाग द्वारा अधिकृत एजेंसी से प्राप्त करें।

--आईएएनएस

एसआरएस/एसजीके

From around the web