हम परिवार हैं और भाई-बहन भी, हमारा भविष्य और उज्‍जवल होगा : शी चिनफिंग

 
हम परिवार हैं और भाई-बहन भी, हमारा भविष्य और उज्‍जवल होगा : शी चिनफिंगबीजिंग, 9 जून (आईएएनएस)। इन दिनों चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग छिंगहाई प्रांत के निरीक्षण दौरे पर हैं। उन्होंने 8 जून को दोपहर बाद छिंगहाई प्रांत की कांगछा काउंटी के ल्यू-ह कस्बे में एक तिब्बती गांव का दौरा किया। उन्होंने गांववासियों से कहा कि हम परिवार हैं और भाई-बहन भी। नए चीन की स्थापना की 100वीं वर्षगांठ (साल 2049) तक चीन अवश्य ही विश्व की अग्रिम पंक्ति में खड़ा रहेगा। चीनी राष्ट्र की विभिन्न जातियां अनार की बीजों की तरह एकजुट हैं, हमें पक्का विश्वास है कि हमारा भविष्य और उज्‍जवल होगा।

इस तिब्बती गांव का नाम है क्वोलुओ त्सांगकोंगमा, जो 2400 से अधिक गांववासियों वाला तिब्बती पशु-पालन गांव है। साल 2017 में यह गांव पूर्ण गरीबी से उबर गया है। इधर के सालों में इस गांव में सामूहिक उद्योग के सक्रिय विकास किया जाता है। साल 2020 में क्वोलुओ त्सांगकोंगमा गांव की सामूहिक आर्थिक आय 3.6 लाख युआन से अधिक थी, और गांववासियों की प्रति व्यक्ति प्रयोज्य आय 12 हजार 313 युआन तक पहुंच गई।

उस दिन शी चिनफिंग छिंगहाई झील पहुंचकर व्यापक पर्यावरण प्रबंधन और जैव विविधता संरक्षण कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा, छिंगहाई की पारिस्थितिक सभ्यता का निर्माण, पारिस्थितिक संसाधनों की रक्षा, राष्ट्रीय पारिस्थितिक रणनीति का कार्यान्वयन और राष्ट्रीय उद्यान का निर्माण भली-भांति किया जाना चाहिए। पारिस्थितिकी संसाधन और धन है, और हमारा खजाना भी है।

छिंगहाई प्रांत पीली नदी, यांग्त्जी नदी और लानछांग नदी का उद्गम स्थल है। हर साल 60 अरब घन-मीटर से अधिक स्वच्छ पानी नदियों के निचले क्षेत्रों में पहुंचाया जाता है, यहां केवल एक पारिस्थितिक सुरक्षा बाधा ही नहीं, बल्कि चीन और यहां तक कि एशिया के लिए एक महत्वपूर्ण जल संरक्षण क्षेत्र भी है। शी चिनफिंग ने बल देते हुए कहा कि पारिस्थितिकी छिंगहाई का सबसे बड़ा मूल्य, सबसे बड़ा जिम्मेदार और सबसे बड़ी निहित शक्ति है। प्रांत के विकास और निर्माण के दौरान पारिस्थितिक निर्माण को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। यह देश, राष्ट्र और आने वाली पीढ़ियों के लिए जिम्मेदार है।

(साभार : चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

From around the web