अमेरिका में बाल श्रम की स्थिति खराब

 
अमेरिका में बाल श्रम की स्थिति खराबबीजिंग, 11 जून (आईएएनएस)। 12 जून को विश्व बाल श्रम रहित दिवस है । अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक संगठन और संयुक्त राष्ट्र बाल कोष द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2021 में विश्व में बाल श्रमिकों की संख्या 20 साल में पहली बार बढ़ी है। इसके साथ जेनेवा में चल रही 109वीं अंतरराष्ट्रीय श्रमिक महासभा की वीडियो कांफ्रेस में अमेरिका में मौजूद जबरन श्रम और बाल श्रमिक सवाल की व्यापक आलोचना की गयी। स्थानीय विश्लेषकों के विचार में अमेरिका की कार्रवाई से वैश्विक बाल श्रम की समस्या गंभीर हुई है।

अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक संगठन के आंकड़ों के अनुसार इस संगठन के 8 मुख्य संधियों में से सिर्फ दो को अमेरिका में मंजूरी मिली है। इसके अलावा अमेरिका संयुक्त राष्ट्र बाल अधिकार संधि की पुष्टि न करने वाला एकमात्र देश है।

वास्तव में अमेरिका में बाल श्रम की स्थिति बहुत गंभीर है। संबंधित विभाग के अनुसार अमेरिका में अब पांच लाख बच्चे कृषि में लगे हुए हैं। धूम्रपान उद्योग में बाल श्रमिकों का प्रयोग करना आम बात है। वाशिंटन पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार 2003 से 2016 के बीच अमेरिका में 452 बच्चे काम में घायल होकर मर गये।

कई वर्षों में अंतरराष्ट्रीय श्रमिक संगठन ने कई बार अमेरिका के बाल मुद्दे पर चिंता व्यक्त की और अमेरिका से मजबूर श्रम सवाल का हल करने का अनुरोध किया। लेकिन अमेरिका ने इसकी उपेक्षा की। इसके उल्टे उसने चीन के शिनच्यांग में तथाकथित मजबूर श्रम होने का लांछन लगाया।

दूसरों पर निराधार आरोप लगाकर ध्यान हटाने से अमेरिका अपने मुद्दे का समाधान नहीं कर सकता है। अमेरिकी राजनीतिज्ञों को अंतरराष्ट्रीय श्रम कानून का पालन कर गंभीरता से आत्म निरीक्षण करना चाहिए।

--आईएएनएस

आरएचए

(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)

From around the web