क्या है सर्कुलर टिकट? जिस पर आप एक नहीं कई स्टेशन तक कर सकते हैं यात्रा

 
T

आपने ट्रेन से यात्रा के लिए सामान्य यात्रा टिकट या प्लेटफार्म टिकट तो खरीदी होगी. लेकिन रेलवे सर्कुलर टिकट भी जारी करता है. क्या इस बारे में आप जानते हैं. सामान्य टिकट से आप एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक यात्रा कर सकते हैं, लेकिन आप सर्कुलर टिकट के जरिए आठ अलग-अलग स्टेशन पर जा सकते हैं.

T

क्या होती है सर्कुलर टिकट

अगर आप कई स्थानों की तीर्थ यात्रा या दर्शनीय-स्थलों की सैर करना चाहते हैं तो आप सर्कुलर टिकट ले सकते हैं. सर्कुलर टिकट जारी करने से पहले यात्री को अपने यात्रा विरामों के लिए अधिकतम 8 स्टेशनों के नाम देने होते हैं. यानी जब आप लंबे टूर पर निकलते हैं तो आप अलग-अलग स्टेशन का टिकट ना करवाकर अपनी यात्रा के कार्यक्रम के हिसाब से एक ही टिकट खरीद सकते हैं, जो अलग-अलग ट्रेनों में भी मान्य होती है.

सर्कुलर टिकट की वैधता अवधि यात्रा के दिनों और यात्रा विराम के दिनों की गणना करके की जाती है. इसमें यात्रा के दिनों में प्रतिदिन 400 किलोमीटर अथवा उसके किसी भाग की दूरी और यात्रा विराम की गणना के लिए 1 दिन में 200 किलोमीटर की गणना की जाएगी. आप सर्कुलर टिकट पर यात्रा करते हैं तो आपको अधिकतम 8 यात्रा-विरामों की अनुमति मिलती है, जिसके लिए आपको यात्रा विराम संबंधी एंडोर्समेंट की जरूरत नहीं पड़ती. आपसे सर्कुलर टिकट के लिए दो यात्राओं का किराया लिया जाएगा और प्रत्येक यात्रा को कुल दूरी की आधी दूरी माना जाएगा.

कैसे कर सकते हैं सर्कुलर टिकट की बुकिंग

आप इस संबंध में मंडल के वाणिज्य प्रबंधक से संपर्क कर सकते हैं और वह आपके यात्रा विवरण के आधार पर टिकटों की कीमत का आकलन करते हैं. साथ ही वह आपको निर्धारित रूट के बारे में भी जानकारी देंगे. आप जिस स्टेशन से यात्रा करना चाहते हैं वहां के टिकट घर से, इस फार्म को प्रस्तुत करके, सर्कुलर यात्रा टिकट खरीद सकते हैं.

From around the web