23,000 रुपये की पेंशन पाने के लिए जमा करें बस 3 लाख, 10 साल बाद यह रकम भी मिल जाएगी वापस 

 
23,000 रुपये की पेंशन पाने के लिए जमा करें बस 3 लाख, 10 साल बाद यह रकम भी मिल जाएगी वापस

अगर आप रिटायरमेंट के बाद अपने भविष्य को सुरक्षित करना चाहते हैं तो आपको पहले से ही पूरी प्लानिंग कर लेनी चाहिए. बुजुर्गों के लिए मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री व्यय वंदना योजना शुरू की है जिसका फायदा 31 मार्च 2030 तक उठा सकते हैं. यह स्कीम 10 सालों के लिए होती है जिसमें एंट्री की न्यूनतम उम्र सीमा 60 साल है. 

इस योजना के तहत महीनेवारी, तिमाही, छमाही और सालाना आधार पर पेंशन मिलती है. मिनिमम पेंशन ₹1000 महीना और ₹12,000 सालाना होगी. जबकि अधिकतम पेंशन ₹9250 महीना और 1.11 लाख सालाना होगी. अगर आपको ₹1000 महीने की पेंशन चाहिए तो आपको कम से कम 1.62 लाख रुपए जमा कर देंगे. 

आपको सालाना 1.11 लाख की पेंशन चाहिए तो आपको 14.50 रुपए जमा करने होंगे. अगर पेशनर 10 साल तक जीवित रहता है तो उसे लगातार पेंशन मिलती रहेगी. अगर इस दौरान उसकी मौत हो जाती है तो पर्चेज प्राइस मनी को वापस कर दिया जाता है. इतना ही नहीं अगर पेशनर 10 साल तक जीवित रहता है और पॉलिसी मैच्योर हो जाती है तो पर्चेज प्राइस मनी को वापस कर दिया जाता है. 

अगर किसी पॉलिसीहोल्डर को पॉलिसी पसंद नहीं आती तो वह 15 दिनों के भीतर इस पॉलिसी को रिटर्न कर सकता है. अगर ऑनलाइन पॉलिसी खरीदा है तो 30 दिनों का समय मिलेगा.

From around the web