साल की दूसरी तिमाही में 50 प्रतिशत तक पहुंच जाएगा भारत का ऑनलाइन स्मार्टफोन बाजार

 
साल की दूसरी तिमाही में 50 प्रतिशत तक पहुंच जाएगा भारत का ऑनलाइन स्मार्टफोन बाजार साल की दूसरी तिमाही में 50 प्रतिशत तक पहुंच जाएगा भारत का ऑनलाइन स्मार्टफोन बाजारनई दिल्ली,22 जुलाई (आईएएनएस)। कोविड के कारण दुनियाभर की अर्थव्यवस्था पर कभी प्रभाव पड़ा है। दूसरी ओर, भारतीय ऑनलाइन स्मार्टफोन बाजार अप्रैल-जून तिमाही में 50 प्रतिशत को पार करने की संभावना है।

5जी स्मार्टफोन शिपमेंट पहली तिमाही 2021 में 7 प्रतिशत से दूसरी तिमाही में 15 प्रतिशत तक है, क्योंकि लगभग हर स्मार्टफोन कंपनी 5जी-रेडी कम कीमत वाली डिवाइस को लॉन्च करने के लिए दोगुना कम कर रही है।

काउंटरपॉइंट रिसर्च के अनुसार, अप्रैल और मई दोनों महीनें में उम्मीद से बेहतर स्मार्टफोन कंपनियों में उछाल थी, क्योंकि हमने पहले ही उल्लेख किया है कि स्मार्टफोन बाजार लचीला रहता है। हमने जून में फोन बाजारों में कफी मजबूती देखी है।

हालाँकि, आपूर्ति श्रृंखला की कमी का भी दबाव था जिसका वैश्विक बाजार सामना कर रहा है, और भारत भी इससे अछूता नहीं था।

इसके कारण, दूसरी तिमाही में स्मार्टफोन बाजार पिछले साल के मुकबले तिमाही से 14-18 प्रतिशत नीचे हो सकता है, जैसा कि आंकड़ों से पता चलता है।

काउंटरपॉइंट ने कहा, कुल मिलाकर, हमारा मानना है कि बाजार पिछले साल की तरह साल-दर-साल विकास का प्रदर्शन करेगा। दूसरी तिमाही में विकास दर आधा हो चुका था।

स्मार्टफोन ब्रांड रियलमी ने इस महीने की शुरूआत में घोषणा की थी कि, उसका लक्ष्य चिपसेट निमार्ताओं और अन्य उद्योग भागीदारों के समर्थन से अगले साल भारतीय यूजर्स के लिए 10,000 रुपये से कम के सेगमेंट में 5जी स्मार्टफोन लाना है।

रियलमी इंडिया और यूरोप के वाइस प्रेसिडेंट, रियलमी और सीईओ माधव शेठ ने कहा, रियलमी का लक्ष्य 5 जी लीडर बनना है और यह मानता है कि 2021 के बाद से प्रत्येक भारतीय 5जी फोन का हकदार है। हम भारत और विश्व स्तर पर 5जी के लोकतंत्रीकरण का नेतृत्व कर रहे हैं, और अपने 5जी स्मार्टफोन के माध्यम से हम लगातार अधिक छलांग-आगे आश्चर्य और बाजार में सर्वश्रेष्ठ लाएंगे।

काउंटरपॉइंट रिसर्च ने वर्चुअल 5जी इवेंट के दौरान खुलासा किया कि, भारत में मई में बिकने वाले लगभग 14 प्रतिशत स्मार्टफोन 5जी डिवाइस थे।

काउंटरपॉइंट रिसर्च के रिसर्च डायरेक्टर तरुण पाठक ने इवेंट के दौरान कहा था कि,ऐसे कई बाजार और तकनीकी कारक हैं जो 4जी से 5जी वर्जन को सभी डिवाइसों में तेजी ला देगी। डाउनलोड गति में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन को बढ़ावा देने और इमेजिंग, प्रोसेसर और बैटरी लाइफ में स्टेप-चेंज फीचर सेट में सुधार की उम्मीद है।

--आईएएनएस

एनपी/आरजेएस

From around the web