फेसबुक के 5.8 मिलियन वीआईपी पास यूजर्स पर नहीं होगी कोई कार्रवाई

 
फेसबुक के 5.8 मिलियन वीआईपी पास यूजर्स पर नहीं होगी कोई कार्रवाईसैन फ्रांसिस्को, 14 सितम्बर (आईएएनएस)। फेसबुक के कम से कम 58 लाख हाई प्रोफाइल यूजर्स के पास वीआईपी पास है, जिससे वे बिना किसी नतीजे के नियम तोड़ सकते हैं।

द वॉल स्ट्रीट जर्नल के अनुसार, टेक दिग्गज एक ऐसे प्रोग्राम का उपयोग कर रहा है जो कंपनी के मानक सामग्री मॉडरेशन प्रथाओं से लाखों वीआईपी यूजर्स को श्वेतसूची में डालता है।

सीएनबीसी के रिपोर्ट के मुताबिक, जो आंतरिक फेसबुक दस्तावेजों का हवाला देती है, उसने कहा कि 2020 में कम से कम 5.8 मिलियन वीआईपी फेसबुक यूजर्स थे।

फेसबुक नीति संचार प्रबंधक एंडी स्टोन ने ट्विटर पर लिखा, डब्लूएसजे टुकड़ा बार-बार फेसबुक के अपने दस्तावेजों का हवाला देता है जो वास्तव में कंपनी में पहले से चल रहे बदलावों की आवश्यकता को इंगित करता है।

रिपोर्ट के अनुसार, अगर कंपनी की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस तकनीक या अनुबंधित सामग्री मॉडरेटर अपने पोस्ट को कंपनी के नियमों का उल्लंघन करते हुए पाते हैं, तो हर दिन फेसबुक यूजर्सअपनी सामग्री को तुरंत हटा सकते हैं।

हालाँकि, एक्सचेक प्रोग्राम के उपयोगकर्ता अलग मॉडरेशन सिस्टम में रूट किए जाने से पहले अपनी सामग्री को फेसबुक की सेवाओं पर लाइव रख सकते हैं। रिपोर्ट के अनुसार, उस प्रक्रिया में बेहतर प्रशिक्षित सामग्री मॉडरेटर भी शामिल हैं, जो पूर्णकालिक कर्मचारी हैं

इनमें फुटबॉल स्टार नेमार भी शामिल हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि 2019 में, उसने एक महिला की नग्न तस्वीरें पोस्ट कीं, जिसने अपने फेसबुक अकाउंट पर बलात्कार का आरोप लगाया था।

इस प्रकार की सामग्री को आमतौर पर हटा दिया जाता, लेकिन एक्सचेक ने नेमार के खाते की रक्षा की और फेसबुक मॉडरेटर को इसे तुरंत नीचे ले जाने से रोक दिया।

--आईएएनएस

एनपी/आरजेएस

From around the web