पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत पर आम नागरिक परेशान, सड़कों पर विपक्ष

 
पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत पर आम नागरिक परेशान, सड़कों पर विपक्षनई दिल्ली, 11 जून (आईएएनएस)। भारत में पिछले कुछ दिनों से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार बढ़त देखी जा रही है। एक तरफ आम नागरिक बढ़ती कीमतों पर दुख जता रहा है तो दूसरी ओर विपक्ष इस मसले को लेकर सड़कों पर उतर चुका है। दिल्ली के मान सिंह मार्ग स्थित पेट्रोल पंप पर पेट्रोल भरवा रहे आम नागरिक ने बढ़ती कीमतों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, आए दिन बढ़ते पेट्रोल की कीमतों से बजट बिगड़ने लगा है।

मोटर साइकिल में पेट्रोल भरवा रहे विजय ने कहा , इतनी कमाई है नहीं, तेल का दाम बढ़ रहा है। इंसान 200 रुपये का तेल डलवाएगा तो खाएगा क्या ? यदि तेल के दाम ही बढाने है तो आम इंसान की तनख्वाह पर भी गौर किया जाए।

विजय के अलावा अमित भी अपनी राय रखते हुए कहते हैं, गाड़ी चलाना बंद करना पड़ेगा, अब साइकिल चलाना शुरू करना पड़ेगा। जब मैंने स्कूटर चलाना शुरू किया था तो 60 रुपए प्रति लीटर पेट्रोल डलवाता था लेकिन अब 95 रुपए पेट्रोल भरवा रहा हूं। बढ़ती कीमतों से परेशान हूं।

वहीं जितेंद्र कुमार ने कहा कि, महंगाई सरकार की तरफ से बढाई जा रही है इससे परेशानी हो रही है। पहले ही इतना खराब समय चल रहा है। इसमें इतना पेट्रोल के दाम भड़ाना दिक्कत आ रही है।

दरअसल तेल कंपनियों ने शुक्रवार को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की है। भारतीय बाजार में आज पेट्रोल 29 पैसे प्रति लीटर और डीजल 28 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया है।

तेल कीमतों में हुए बदलावों के बाद शुक्रवार को दिल्ली में पेट्रोल का भाव 95.85 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया तो वहीं डीजल का रेट 86.75 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

दिल्ली के अलावा कोलकाता में पेट्रोल 95.80 रुपये और डीजल 89.60 रुपये का हो गया है। वहीं आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल 101.04 रुपये और डीजल 94.15 रुपये हो गया है। इसके अलावा चेन्नई में पेट्रोल 97.19 रुपये और डीजल 91.42 रुपये पहुंच गया है।

विपक्ष भी अब देशभर में इन कीमतों के खिलाफ सड़कों पर उतर आए हैं, कांग्रेस भी आज देश के सभी पेट्रोल पम्पों पर प्रदर्शन किया।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा , जब देश आपदा में था, लोग आर्थिक संकट झेल रहे थे। तब सरकार ने पेट्रोल डीजल पर टैक्स लगाकर 2.5 लाख करोड़ कमाए।

-- आईएएनएस

एमएसके/आरएचए

From around the web