एक लड़का कुत्ता खरीदने के लिए दुकान पर पहुंचा, उसके पास ज्यादा पैसे नहीं थे, तभी उसकी नजर दुकान में एक

Sagar Sharma 
K

कुत्ते का बच्चा खरीदने के लिए एक लड़का दुकान पर पहुंच गया। उसने दुकानदार से कहा कि आप के यहां पर कुत्तों के बच्चों की कीमत कितनी है। दुकानदार ने लड़के को बताया कि सभी की कीमत अलग-अलग है। लड़के ने पूछा कि तुम्हारे यहां सबसे कम कीमत का कतता कौन-सा है। दुकानदार ने बताया कि मेरे यहां सबसे कम कीमत का एक कुत्ता है, जिसकी कीमत 5000 है।

एक लड़का कुत्ते का बच्चा खरीदने के लिए गया, लेकिन उसके पास ज्यादा पैसे नहीं थे, तभी अचानक उसे दुकान में एक अपाहिज कुत्ता नजर आया तो लड़के ने दुकानदार से उसकी कीमत पूछी, दुकानदार ने कहा

लड़के ने दुकानदार को बताया मेरे पास सिर्फ ₹500 हैं। क्या इतने पैसों में कोई भी कुत्ते का बच्चा नहीं मिल पाएगा। दुकानदार ने मना कर दिया। लड़के ने कहा ठीक है। मैं पैसे इकठ्ठे करने के बाद तुम्हारे पास आऊंगा। क्या इस वक्त में उस कुत्ते के बच्चे को देख सकता हूं।

दुकानदार ने हंसते हुए बच्चे को हां कह दिया। लड़का उस दुकान के पीछे वाले कमरे में गया , जहां बहुत सारे कुत्तों के बच्चे खेल रहे थे। उसने देखा कि एक कुत्ते का बच्चा शांत बैठा हुआ है। लड़के ने दुकानदार से सवाल किया कि वह क्यों नहीं खेल रहा। दुकानदार ने कहा कि इसके पैर में कोई बीमारी है, जिस कारण वो नहीं खेल पाता।

लड़के ने उस कुत्ते के बच्चे को उठाया और उसकी कीमत पूछी। दुकानदार ने कहा कि यह तुम्हारे साथ नहीं खेल पाएगा। तुम इसे मत खरीदो। लड़के ने जिद की कि आप मुझे इसकी कीमत बताइए। दुकानदार ने कहा कि तुम इसे फ्री में ले जाओ। दुकानदार ने बताया कि तुम इस बात का ध्यान रखना यह चल भी नहीं पाएगा।

लड़के ने कहा कि मैं से फ्री में नहीं ले जाऊंगा। इसकी पूरी कीमत आपको दूंगा। अभी आप ₹500 रख लीजिए। धीरे-धीरे करके मैं आपको बाकी पैसे भी दे दूंगा। दुकानदार ने उस बच्चे से कहा कि बेटा तुम जिद मत करो। यह कुत्ते का बच्चा ठीक से चल भी नहीं पाएगा।

लड़के ने उस कुत्ते के बच्चे को नीचे उतार दिया और अपना खुद का पैर दिखाया। उसने कहा कि मेरा भी एक पैर ठीक नहीं है। मेरे इस पैर में मेटल ब्रास लगे हुए हैं, जिस कारण मैं चल सकता हूं मैं।

From around the web