जब भारतीय खिलाड़ियों से अंपायर ने कह दिया मत खेलो, अजिंक्य रहाणे ने सुनाई पूरी दास्तां

जब भारतीय खिलाड़ियों से अंपायर ने कह दिया मत खेलो, अजिंक्य रहाणे ने सुनाई पूरी दास्तां
 
जब भारतीय खिलाड़ियों से अंपायर ने कह दिया मत खेलो, अजिंक्य रहाणे ने सुनाई पूरी दास्तां

भारतीय क्रिकेट टीम ने 2020-21 में ऑस्ट्रेलिया दौरा किया था. इस दौरे पर भारतीय टीम ने टेस्ट सीरीज में 2-1 से जीत हासिल की थी. लेकिन सिडनी में खेले गया टेस्ट मैच काफी सुर्खियों में रहा था. यह मैच ड्रॉ पर समाप्त हुआ था. इस मैच के दौरान भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज के खिलाफ दर्शकों ने नस्लीय टिप्पणी की थी. 

जब भारतीय खिलाड़ियों से अंपायर ने कह दिया मत खेलो, अजिंक्य रहाणे ने सुनाई पूरी दास्तां

मैच के तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद भारतीय खिलाड़ियों ने इस संबंध में अधिकारियों से शिकायत की थी. लेकिन अगली सुबह भी यह हरकत बंद नहीं हुई. तब भारतीय खिलाड़ियों ने अंपायरों से फिर से शिकायत की और इस वजह से 10 मिनट तक खेल रुका रहा था. खेल तभी शुरू हुआ, जब उन लोगों के समूह को स्टैंड से बाहर कर दिया गया, जो ऐसी हरकत कर रहे थे.

अब अजिंक्य रहाणे ने उस मैच को लेकर खुलासा किया है कि अंपायर पॉल राइफेल और पॉल विल्सन ने भारतीय खिलाड़ियों से कह दिया था कि वो ड्रेसिंग रूम में चले जाएं, अगर वह नहीं खेलना चाहते. लेकिन भारत ने दर्शकों को मैदान से बाहर निकालने और टेस्ट मैच जारी रखने पर जोर दिया. भारत-ऑस्ट्रेलिया की सीरीज पर बनी डॉक्यूमेंट्री बंदों में है दम की लॉन्चिंग के मौके पर रहाणे ने कहा- जब चौथे दिन सिराज मेरे पास आए तो मैंने अंपायरों से कहा कि हम तब तक नहीं खेलेंगे, जब तक वह इस मामले पर कोई एक्शन नहीं लेते.

इस पर अंपायरों ने हमसे कहा कि आप खेल को रोक नहीं सकते हैं. आप चाहे तो बाहर जा सकते हैं. तब हमने कहा कि हम यहां खेलने आए हैं ड्रेसिंग रूम में बैठने के लिए नहीं. रहाणे ने यह भी कहा कि जो सिडनी में हुआ, वह पूरी तरह से गलत था. सिडनी में हमेशा से ऐसा होता आया है. मैंने कई बार खुद भी इसका अनुभव किया है.

From around the web