टेस्ट क्रिकेट में केवल एक ही खिलाड़ी कर पाया है 400 विकेट और 4000 रन बनाने का कमाल, नाम जानकर होगा गर्व

टेस्ट क्रिकेट में केवल एक ही खिलाड़ी कर पाया है 400 विकेट और 4000 रन बनाने का कमाल, नाम जानकर होगा गर्व
TheDesiawaaz Desk 
टेस्ट क्रिकेट में केवल एक ही खिलाड़ी कर पाया है 400 विकेट और 4000 रन बनाने का कमाल, नाम जानकर होगा गर्व

हर क्रिकेटर अपने देश की राष्ट्रीय टीम से खेलते हुए विश्व स्तर पर शानदार प्रदर्शन करना चाहता है. आज हम आपको विश्व के एकमात्र ऐसे क्रिकेटर के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने टेस्ट क्रिकेट में 4000 रन बनाए और 400 विकेट लेने का कारनामा किया है. 

 टेस्ट क्रिकेट में केवल एक ही खिलाड़ी कर पाया है 400 विकेट और 4000 रन बनाने का कमाल, नाम जानकर होगा गर्व

यह कारनामा करने वाला खिलाड़ी कोई और नहीं भारत के पूर्व महान ऑलराउंडर कपिल देव है.  कपिल देव की कप्तानी में भारत ने वर्ल्ड कप जीता. कपिल देव को क्रिकेट से संन्यास लिए हुए कई दशक हो गए हैं. बता दें कि कपिल देव अभी भी टेस्ट सबसे ज्यादा 4000 रन और 400 विकेट लेने वाले दुनिया के एकमात्र क्रिकेटर हैं. कपिल देव ने अक्टूबर, 1978 में पाकिस्तान के विरुद्ध अंतरराष्ट्रीय डेब्यू मैच खेला था. 

कपिल देव ने अपने 16 साल के लंबे क्रिकेट करियर में 131 टेस्ट मैच खेले और 5248 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने टेस्ट में 434 विकेट भी हासिल किए. कपिल देव की गिनती दुनिया के बेहतरीन ऑलराउंडरों में की जाती थी. कपिल देव के समय में रिचर्ड हैडली, इमरान खान जैसे बेहतरीन खिलाड़ी थे. लेकिन फिर भी कपिल देव ने अपना दबदबा कायम रखा. 

जब भारतीय टीम 1983 के वनडे वर्ल्ड कप में इंग्लैंड विश्व कप में हिस्सा लेने गई थी, तबकिसी ने भी नहीं सोचा था कि टीम इंडिया चैंपियन बनकर लौटेगी. फाइनल में वेस्टइंडीज को हराकर टीम इंडिया ने यह मुकाबला जीता था और रिकॉर्ड बुक में भी अपना नाम दर्ज कराया था. कपिल देव के बाद 28 साल महेन्द्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम ने अपने घर पर दूसरी बार वर्ल्ड कप का खिताब जीता.

From around the web