भारत के वो दिग्गज बदनसीब क्रिकेटर जो इतिहास रचने से चूके, तिहरा शतक लगाकर बना सकते थे बड़ा रिकॉर्ड

भारत के वो दिग्गज बदनसीब क्रिकेटर जो इतिहास रचने से चूके, तिहरा शतक लगाकर बना सकते थे बड़ा रिकॉर्ड
TheDesiawaaz Desk 
भारत के वो दिग्गज बदनसीब क्रिकेटर जो इतिहास रचने से चूके, तिहरा शतक लगाकर बना सकते थे बड़ा रिकॉर्ड

टेस्ट क्रिकेट में एक बल्लेबाज की असली परीक्षा होती है और उसकी प्रतिभा का पता चलता है. टेस्ट क्रिकेट में बहुत ही कम बल्लेबाज तिहरा शतक लगा पाए हैं. भारत की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में केवल तीन तिहरे शतक ही लगे हैं, जिनमें से दो तिहरे शतक वीरेंद्र सहवाग ने लगाए थे. आज हम आपको भारत के उन बल्लेबाजों के बारे में बता रहे हैं जो कि तिहरा शतक लगाने से बाल-बाल चूक गए थे.

भारत के वो दिग्गज बदनसीब क्रिकेटर जो इतिहास रचने से चूके, तिहरा शतक लगाकर बना सकते थे बड़ा रिकॉर्ड

वीरेंद्र सहवाग

पूर्व भारतीय सलामी विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने अपने अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट करियर में दो तीहरे शतक लगाए. लेकिन वह दो बार तिहरा शतक लगाने से भी चूक गए. वीरेंद्र सहवाग ने श्रीलंका के विरुद्ध 293 के स्कोर पर आउट हुए थे. वह अपना तीहरा शतक पूरा करने से केवल 7 रन चूक गए.

सुनील गावस्कर

1983 में सुनील गावस्कर ने वेस्टइंडीज के विरुद्ध चेन्नई में खेले गए मुकाबले में 236 रनों की पारी खेली थी. इस मैच में वेस्टइंडीज की टीम ने पहली पारी में 313 रन बनाए थे. जिसके जवाब में टीम इंडिया का स्कोर 451/4 था. लेकिन कपिल देव ने पारी घोषित कर दी और गावस्कर अपना तीहरा शतक लगाने से चूक गए.

सचिन तेंदुलकर

2009 के विरुद्ध सिडनी में खेले गए टेस्ट सीरीज के चौथे मुकाबले में तेंदुलकर ने 241 रनों की नाबाद पारी खेली थी. लेकिन मैच की परिस्थितियों को देखते हुए सौरव गांगुली ने पारी घोषित की और सचिन अपना तीहरा शतक पूरा नहीं कर सके.

विराट कोहली

साल 2019 में आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के मुकाबले के तहत दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध खेले गए टेस्ट सीरीज के दूसरे मुकाबले में विराट कोहली ने 254 रनों की नाबाद पारी खेली थी. लेकिन उन्होंने खुद ही पारी घोषित कर दी और तीहरा शतक लगाने का मौका भी गंवा दिया. उस समय भारतीय टीम का स्कोर 601/5 था. तब विराट कोहली ने पारी को घोषित कर दिया.

From around the web