वो विदेशी क्रिकेटर जो शाही परिवारों से रखते हैं तालुक

वो विदेशी क्रिकेटर जो शाही परिवारों से रखते हैं तालुक
 
वो विदेशी क्रिकेटर जो शाही परिवारों से रखते हैं तालुक

क्रिकेट इतिहास में एक से बढ़कर एक बेहतरीन खिलाड़ी रहे. कई राजा और युवराज ने भी क्रिकेट खेला. इंग्लैंड का शाही परिवार अपना समय बिताने के लिए सबसे पहले क्रिकेट खेला करता था. धीरे-धीरे क्रिकेट के खेल में बदलाव हुआ और यह खेल इंग्लैंड से निकलकर भारत और इंग्लैंड के राजाओं के बीच भी खेला जाने लगा. आज हम आपको उन क्रिकेटरों के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि रॉयल फैमिली से ताल्लुक रखते थे.

वो विदेशी क्रिकेटर जो शाही परिवारों से रखते हैं तालुक

प्रिंस क्रिश्चियन विक्टर

प्रिंस क्रिश्चियन विक्टर एकमात्र ब्रिटिश शाही परिवार के सदस्य थे. जिन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेला. वह महारानी विक्टोरिया के पोते थे. प्रिंस क्रिस्चियन 1888 में स्कारबर्ग में डब्ल्यू जी ग्रेस की कप्तानी में खेले गए जेंटलमेन ऑफ इंग्लैंड मैच में नजर आए. 33 साल की उम्र में युद्ध के दौरान ही प्रिंस क्रिश्चियन विक्टर दक्षिण अफ्रीका में उनकी मृत्यु हो गई थी.

ब्रायन लारा

वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर ब्रायन लारा शाही परिवार से आते हैं. 1976 में गुजरात के बिखा के राज परिवार के यजुर्वेंद्रा सिंह ने बैंगलोर में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए मैच में लारा से पहली बार मुलाकात की थी।

किंग जॉर्ज VI

किंग जॉर्ज प्रथम श्रेणी के नियमित क्रिकेटर नहीं, लेकिन जॉर्ज-6 ने सर्वकालिक सबसे बेहतरीन हैट्रिक अपने नाम दर्ज करा रखी है. विजडन 1953 में खुलासा किया गया है. एडवर्ड-7 के बेटे और पोते रोजाना क्रिकेट खेला करते थे.

प्रिंस एंड्रयू

यॉर्क के युवा शासक प्रिंस एंड्रयू बहुत ही अच्छे क्रिकेटर थे. स्कूल के दिनों में भी उनका गेंदबाजी औसत बहुत ही शानदार था. एंड्रयू के पिता एडिनबर्ग के शासक भी रहे और वह अच्छे स्पिनर थे. वह एकमात्र इंसान थे जिन्हें बीसवीं शताब्दी में दो बार एनसीसी का अध्यक्ष बनाया गया था.

From around the web