क्रिकेट इतिहास के वो पांच रिकॉर्ड जो बीते 70 सालों से है अटूट, अब टूटना भी लगता है नामुमकिन

क्रिकेट इतिहास के वो पांच रिकॉर्ड जो बीते 70 सालों से है अटूट, अब टूटना भी लगता है नामुमकिन
 
क्रिकेट इतिहास के वो पांच रिकॉर्ड जो बीते 70 सालों से है अटूट, अब टूटना भी लगता है नामुमकिन

क्रिकेट ऐसा खेल है जहां हर मैच के साथ में रिकॉर्ड बनते हैं. लेकिन क्रिकेट के खेल में कई ऐसे रिकॉर्ड भी बने जिन्हें आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है और इन रिकॉर्ड का टूटना मुश्किल लगता है. आज हम आपको क्रिकेट के कुछ ऐसे ही रिकॉर्ड के बारे में बताने जा रहे हैं.

क्रिकेट इतिहास के वो पांच रिकॉर्ड जो बीते 70 सालों से है अटूट, अब टूटना भी लगता है नामुमकिन

डॉन ब्रैडमैन का बल्लेबाजी औसत

डॉन ब्रैडमैन क्रिकेट की दुनिया का जाना-माना नाम है. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट की 80 पारियों में 99 से ज्यादा के औसत से बल्लेबाजी की. आज तक उनका यह रिकॉर्ड कोई नहीं तोड़ पाया है.

जैक हॉब्स के 61760 रन

बीसवीं सदी के बेहतरीन खिलाड़ी रहे जैक हॉब्स ने अपने फर्स्ट क्लास करियर में 834 में खेले. वह रन बनाने के बेहद शौकीन थे. उन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 61760 रन बनाए. उनका यह कोई भी नहीं तोड़ पाया है.

शानदार गेंदबाजी का रिकॉर्ड

शानदार गेंदबाजी का रिकॉर्ड इंग्लैंड के ऑफ स्पिनर जिम लेकर ने 1956 में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध 90 रन देकर 19 विकेट हासिल किए थे. अभी तक कोई भी खिलाड़ी ये कारनामा नहीं कर पाया है.

विलफ्रेड रोड्स के 4204 विकेट

इंग्लैंड के ऑफ स्पिनर 50 के दशक में विलफ्रेड रोड्स ने अपनी स्पिन गेंदबाजी से फर्स्ट क्लास क्रिकेट में शानदार रिकॉर्ड बनाया. जिसका टूटना लगभग असंभव है. उन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 4204 विकेट हासिल किए थे.

टेस्ट मैच में गूच के 456 रन

1990 में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ग्राहम गूज ने टेस्ट मैच के दौरान 456 रन बनाकर अद्भुत रिकॉर्ड बनाया था. उन्होंने पहली पारी में 333 और दूसरी पारी में 123 रन बनाए थे. आज के दौर में यह रिकॉर्ड टूट पाना संभव लगता है.

From around the web