वो 3 अभागे क्रिकेटर जो विश्वकप टीम में तो चुने गए, लेकिन चोटिल होकर टूर्नामेंट से ही हो गए बाहर

वो 3 अभागे क्रिकेटर जो विश्वकप टीम में तो चुने गए, लेकिन चोटिल होकर टूर्नामेंट से ही हो गए बाहर
 
वो 3 अभागे क्रिकेटर जो विश्वकप टीम में तो चुने गए, लेकिन चोटिल होकर टूर्नामेंट से ही हो गए बाहर

अपने देश के लिए विश्व कप खेलना हर क्रिकेटर का सपना होता है. लेकिन हर क्रिकेटर इतना भाग्यशाली नहीं होता कि उसे विश्व कप खेलने का मौका मिलता है. कुछ क्रिकेटर तो ऐसे रहे, जिन्हें विश्वकप टीम में जगह मिली. लेकिन पूरे टूर्नामेंट के दौरान वह या तो बेंच पर बैठे रहे या फिर चोटिल होने की वजह से इस बड़े टूर्नामेंट से ही बाहर हो गए. ऐसे ही कुछ दुर्भाग्यशाली क्रिकेटरों के बारे में हम आपको बता रहे हैं.

वो 3 अभागे क्रिकेटर जो विश्वकप टीम में तो चुने गए, लेकिन चोटिल होकर टूर्नामेंट से ही हो गए बाहर

प्रवीण कुमार 

प्रवीण कुमार पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज हैं, जिनकी गेंदबाजी का हर कोई फैन हुआ करता था. एक समय प्रवीण कुमार टीम इंडिया का महत्वपूर्ण हिस्सा बन गए थे. लेकिन 2011 विश्वकप टीम में जगह बनाने के बावजूद वह चोटिल होकर टूर्नामेंट से बाहर हो गए और उनकी जगह श्रीसंत को चुन लिया गया. अगर प्रवीण कुमार उस समय चोटिल ना हुए होते तो वह भी विश्व चैंपियन टीम का हिस्सा बने होते.

वीरेंद्र सहवाग 

वीरेंद्र सहवाग को 2009 और 2010 के T20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में शामिल किया गया था. हालांकि चोट की वजह से वह टूर्नामेंट से बाहर हो गए और उनकी जगह 2009 के T20 वर्ल्ड कप के लिए दिनेश कार्तिक और 2010 में मुरली विजय को टीम इंडिया में शामिल कर लिया गया.

ईशांत शर्मा 

ईशांत शर्मा भारतीय तेज गेंदबाज हैं, जिन्हें 2015 के वनडे वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में चुना तो गया था. हालांकि घुटने में चोट लगने के कारण वह पूरे टूर्नामेंट से बाहर हो गए और उनकी जगह मोहित शर्मा ने टीम में एंट्री कर ली.

From around the web