1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम में शामिल था ये खिलाड़ी, लेकिन कभी नहीं मिला भारत के लिए मैच खेलने का मौका

1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम में शामिल था ये खिलाड़ी, लेकिन कभी नहीं मिला भारत के लिए मैच खेलने का मौका
TheDesiawaaz Desk 
1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम में शामिल था ये खिलाड़ी, लेकिन कभी नहीं मिला भारत के लिए मैच खेलने का मौका

भारतीय क्रिकेट के इतिहास में 25 जून, 1983 का दिन स्वर्ण अक्षरों में अंकित है. इस दिन टीम इंडिया ने पहली बार वर्ल्ड कप जीतकर इतिहास रचा था. टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज को हराकर खिताब पर कब्जा किया था. भारतीय टीम की ऐतिहासिक जीत में सुनील गावस्कर, कपिल देव, मोहिंदर अमरनाथ, मदनलाल और रोजर बिन्नी जैसे खिलाड़ियों ने महत्वपूर्ण योगदान दिया. लेकिन विश्व विजेता टीम का हिस्सा रहा वो एकमात्र खिलाड़ी आज किसी को याद नहीं है. इस खिलाड़ी को ना तो वर्ल्ड कप में और ना ही देश के लिए एक भी अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने का मौका मिला. 

 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम में शामिल था ये खिलाड़ी, लेकिन कभी नहीं मिला भारत के लिए मैच खेलने का मौका

हम बात कर रहे हैं क्रिकेटर सुनील वाल्सन की, जो 1983 के विश्व कप में टीम इंडिया के सदस्य थे. लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला. वर्ल्ड कप से लौटने के बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया. सुनील वाल्सन का एक तेज गेंदबाज थे. लेकिन टीम इंडिया के लिए उन्हें अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने का मौका नहीं मिला. 

सुनील का घरेलू क्रिकेट कैरियर बहुत ही शानदार रहा. लेकिन टीम इंडिया में कपिल देव, रोजर बिन्नी, मदनलाल, चेतन शर्मा जैसे शानदार गेंदबाजों के होते हुए उन्हें अपने पूरे करियर में एक भी अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने को नहीं मिल सका. बता दें कि सुनील वॉल्सन साल 2018 में आईपीएल की टीम दिल्ली कैपिटल के टीम मैनेजर भी रहे हैं.

From around the web