कभी खुद कप्तान नहीं बना ये खिलाड़ी, अब रोहित-बुमराह के कप्तान-उपकप्तान बनने पर जताई निराशा

कभी खुद कप्तान नहीं बना ये खिलाड़ी, अब रोहित-बुमराह के कप्तान-उपकप्तान बनने पर जताई निराशा
 
कभी खुद कप्तान नहीं बना ये खिलाड़ी, अब रोहित-बुमराह के कप्तान-उपकप्तान बनने पर जताई निराशा

रोहित शर्मा को पहले भारत की सीमित ओवर क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया. लेकिन जब विराट कोहली ने टेस्ट कप्तानी छोड़ दी तो रोहित को टेस्ट कप्तान भी बना दिया गया. बाद में जसप्रीत बुमराह को भारतीय टीम का उपकप्तान नियुक्त कर दिया गया. लेकिन रोहित और बुमराह को कप्तान और उपकप्तान बनाए जाने को लेकर पूर्व भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह ने हैरान करने वाला बयान दिया. वह रोहित और बुमराह को कप्तान और उपकप्तान बनाए जाने के पक्ष में नहीं है.

कभी खुद कप्तान नहीं बना ये खिलाड़ी, अब रोहित-बुमराह के कप्तान-उपकप्तान बनने पर जताई निराशा

युवराज सिंह का कहना है कि रोहित को टेस्ट कप्तान बनाना भावनात्मक फैसला था. लेकिन उन्हें लगता है कि रोहित को कुछ समय पहले सफेद गेंद वाले क्रिकेट में कप्तान बनाया जाना चाहिए था. युवराज सिंह ने कहा कि उत्कृष्ट नेता. जब मैं मुंबई इंडियंस के लिए खेल रहा था तो मैं उनके अधीन खेला था. वह बहुत अच्छे विचारक और बहुत अच्छे कप्तान है. उन्हें सफेद गेंद वाले क्रिकेट में कुछ समय पहले कप्तान बनाना चाहिए था.

उन्होंने यह भी कहा कि ऋषभ पंत को उपकप्तान बनाना चाहिए था. बहुत से लोगों को लगता है कि वह अभी परिपक्व नहीं हुए हैं. लेकिन मुझे लगा कि वह सिर्फ एक दिवसीय कप्तानी से रोहित पर बोझ कम कर सकते थे. अब देखना होगा कि उनका शरीर टेस्ट क्रिकेट में कितना जीवित रहता है. बता दें कि युवराज सिंह भारत के लिए काफी सालों तक क्रिकेट खेले और उन्होंने ऑलराउंडर के रूप में जबरदस्त प्रदर्शन किया. लेकिन उन्हें खुद कभी भारतीय टीम की कप्तानी करने का मौका नहीं मिला.

From around the web