इन फास्ट बॉलरो ने किया है डेब्यु टेस्ट मैच में हैट्रिक लेने का कारनामा

इन फास्ट बॉलरो ने किया है डेब्यु टेस्ट मैच में हैट्रिक लेने का कारनामा
 
इन फास्ट बॉलरो ने किया है डेब्यु टेस्ट मैच में हैट्रिक लेने का कारनामा

टेस्ट क्रिकेट एक खिलाड़ी की असली परीक्षा होती है. हर गेंदबाज टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने का सपना देखता है. लेकिन क्रिकेट में चौके छक्के लगाना, विकेट लेना और रन आउट करना जितना आसान है, उतना ही मुश्किल हैट्रिक लेना है. हम आपको उन तीन गेंदबाजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने डेब्यू टेस्ट में हैट्रिक लेकर सनसनी मचा दी.

इन फास्ट बॉलरो ने किया है डेब्यु टेस्ट मैच में हैट्रिक लेने का कारनामा

मौरिस एलम

टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले मौरिस एलम पहले तेज गेंदबाज थे. जिन्होंने 1929-30 में क्राइस्टचर्च में खेले गए टेस्ट मैच में हैट्रिक ली थी. हालांकि उनका करियर ज्यादा लंबा नहीं चला. वह केवल पांच टेस्ट मैच ही खेल पाए. इंग्लैंड की ओर से खेलते हुए मौरिस एलम ने न्यूजीलैंड के बल्लेबाज टॉम लॉरी(एलबीडब्लू), केन जेम्स(विकेट के पीछे) और टेड बैडकॉक(बोल्ड) पवेलियन का रास्ता दिखाया. पहले दिन मौरिस एलम ने 8 ओवर की पहली 5 गेंदों में चार बल्लेबाजों को आउट किया था,

पीटर पेथरिक

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज पीटर पेथरिक ने 1974 में पाकिस्तान के लाहौर में खेले गए टेस्ट मैच के दौरान 3 बल्लेबाजों जावेद मियांदाद, वसीम राजा और इंतिखाब आलमको आउट कर इतिहास रचा था. पीटर का ये डेब्यू मैच था और उन्होंने अपने डेब्यू मैच में हैट्रिक लेकर पूरे क्रिकेट जगत में सनसनी मचा दी थी. डेब्यु टेस्ट मैच में हैट्रिक लेने के बावजूद भी पीटर पेथरिक का क्रिकेट करियर ज्यादा लंबा नहीं चल सका और वह केवल पांच टेस्ट मैच ही खेल पाए.

डेमियन फ्लेमिंग

1994 में ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज डेमियन फ्लेमिंग ने पाकिस्तान के विरुद्ध अपना डेब्यू टेस्ट मैच खेला था. रावलपिंडी में खेले गए टेस्ट मैच में डेमियन फ्लेमिंग ने इतिहास रच दिया. उन्होंने तीन पाकिस्तानी बल्लेबाजों सलीम मलिक (237 रन), आमिर मालिक(65 रन) और इंजमाम उल हक को आउट कर दिया. हैट्रिक लेने के बावजूद भी उनका क्रिकेट करियर लंबा नहीं चल सका. वह ऑस्ट्रेलिया के लिए केवल 20 टेस्ट मैच खेले.

From around the web