इकलौता भारतीय खिलाड़ी जिसे संन्यास के बाद वर्ल्ड कप के लिए बुलाया गया था वापस

इकलौता भारतीय खिलाड़ी जिसे संन्यास के बाद वर्ल्ड कप के लिए बुलाया गया था वापस
 
इकलौता भारतीय खिलाड़ी जिसे संन्यास के बाद वर्ल्ड कप के लिए बुलाया गया था वापस

भारतीय क्रिकेट टीम में मौजूदा समय में एक से बढ़कर एक खिलाड़ी हैं. लेकिन एक समय ऐसा था जब भारतीय टीम के पास ज्यादा खिलाड़ी नहीं हुआ करते थे.इस वजह से 2003 विश्व कप के दौरान रिटायरमेंट ले चुके एक खिलाड़ी को बुलाना पड़ गया था. सौरव गांगुली ने उस खिलाड़ी को 2002 वर्ल्ड कप खेलने के लिए कहा और वह राजी हो गया. आइए जानते हैं कौन है वो भारतीय क्रिकेटर जिसे रिटायरमेंट के बाद वर्ल्ड कप खेलने के लिए बुलाया गया था.

इकलौता भारतीय खिलाड़ी जिसे संन्यास के बाद वर्ल्ड कप के लिए बुलाया गया था वापस

वह भारतीय क्रिकेटर जवागल श्रीनाथ हैं, जिन्होंने 2002 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. लेकिन 2003 वर्ल्ड कप के लिए सौरव गांगुली ने उन्हें खेलने को कहा. गांगुली के कहने पर श्रीनाथ ने ऐसा किया और उन्होंने वर्ल्ड कप में बहुत ही शानदार प्रदर्शन किया. उन्होंने 2003 के वर्ल्ड कप में 16 विकेट चटकाए थे. इस टूर्नामेंट के बाद उन्होंने क्रिकेट से संन्यास ले लिया.

जवागल श्रीनाथ ने अपने क्रिकेट करियर में बहुत ही शानदार प्रदर्शन किया. उन्होंने 1992, 1996, 1999 और 2003 का विश्व कप खेला. जवागल श्रीनाथ ने अपने क्रिकेट करियर में 229 वनडे मैच खेले, जिसमें 315 विकेट चटकाए. 1992 में उन्हें भारतीय क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना गया था. अगर टेस्ट की बात करें तो उन्होंने 67 मैच खेले, जिसमें 236 विकेट चटकाए. उनका रिकॉर्ड घरेलू क्रिकेट में भी शानदार रहा. संन्यास लेने के बाद वह मैच रेफरी बन गए.

From around the web