विश्व कप का वो हीरो जिसे दिलीप कुमार के कहने पर मिली थी टीम इंडिया में एंट्री

विश्व कप का वो हीरो जिसे दिलीप कुमार के कहने पर मिली थी टीम इंडिया में एंट्री
 
विश्व कप का वो हीरो जिसे दिलीप कुमार के कहने पर मिली थी टीम इंडिया में एंट्री

1983 में पहली बार टीम इंडिया ने कपिल देव की कप्तानी में वर्ल्ड कप का खिताब जीता था. यह जीत भारतीय टीम के सभी खिलाड़ियों के लिए बहुत ही ऐतिहासिक थी. लेकिन आज हम आपको टीम इंडिया के उस क्रिकेटर के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे बॉलीवुड अभिनेता दिलीप कुमार के कहने पर टीम इंडिया में एंट्री मिली थी. 

विश्व कप का वो हीरो जिसे दिलीप कुमार के कहने पर मिली थी टीम इंडिया में एंट्री

हम बात कर रहे हैं 1983 के वर्ल्ड कप के हीरो रहे क्रिकेटर यशपाल शर्मा की, जो हमारे बीच नहीं हैं. लेकिन क्रिकेट में उनका योगदान बहुत ही महत्वपूर्ण रहा. यशपाल शर्मा ने 1979 में लौर्ड्स के मैदान पर इंग्लैंड के खिलाफ टीम इंडिया में डेब्यू किया था. 1978 में सियालकोट में पाकिस्तान के विरुद्ध उन्होंने अपना पहला वनडे मैच खेला. यशपाल शर्मा 1983 वर्ल्ड कप के हीरो थे. उन्होंने वेस्टइंडीज के विरुद्ध एक मैच में 89 रन की शानदार पारी खेली थी. इस मैच के बाद सभी को उम्मीद जगी कि अब भारतीय टीम पहली बार वर्ल्ड कप का खिताब जीतेगी और भारतीय टीम ने इतिहास रचते हुए विश्वकप का खिताब अपने नाम किया. 

लेकिन यशपाल शर्मा के जीवन को संवारने में दिलीप कुमार का योगदान महत्वपूर्ण योगदान रहा. यशपाल शर्मा ने भी कहा था कि दिलीप कुमार ने रणजी ट्रॉफी से बीसीसीआई और भारतीय टीम तक पहुंचाया. 1978 में जब यशपाल शर्मा अपने करियर के शुरुआती दौर में पंजाब की तरफ से रणजी ट्रॉफी खेल रहे थे, तब दिलीप कुमार वो मैच देखने पहुंचे थे. यशपाल शर्मा की बैटिंग के बाद दिलीप कुमार उनसे मिलने पहुंचे और कहा कि तुम अच्छा खेलते हो. जिसके बाद उन्होंने बीसीसीआई में राजसिंह डूंगरपुर से बात की और यशपाल शर्मा को टीम इंडिया में जगह मिल गई.

From around the web