वो भारतीय क्रिकेटर जिन्हें मिला भारत के लिए केवल एक टेस्ट मैच खेलने का मौका

वो भारतीय क्रिकेटर जिन्हें मिला भारत के लिए केवल एक टेस्ट मैच खेलने का मौका
 
वो भारतीय क्रिकेटर जिन्हें मिला भारत के लिए केवल एक टेस्ट मैच खेलने का मौका

टेस्ट क्रिकेट में सफलता हासिल करने का हर क्रिकेटर सपना देखता है. भारत में कई ऐसे क्रिकेटर हुए हैं, जिन्होंने टेस्ट में खूब नाम कमाया. लेकिन कुछ ऐसे खिलाड़ी भी रहे, जिन्हें भारत के लिए केवल एक ही टेस्ट मैच खेलने का मौका मिल पाया. जबकि वो इससे ज्यादा के हकदार थे. आइए जानते हैं उन क्रिकेटरों के बारे में.

वो भारतीय क्रिकेटर जिन्हें मिला भारत के लिए केवल एक टेस्ट मैच खेलने का मौका

रॉबिन सिंह

रॉबिन सिंह के बारे में आप लोग जानते ही होंगे, जिन्होंने फील्डिंग में बहुत नाम कमाया. बल्ले और गेंद से भी उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया. लेकिन टेस्ट में उन्हें बहुत ज्यादा कामयाबी नहीं मिली. वह भारत के लिए केवल एक ही टेस्ट मैच खेल पाए. यह मैच उन्होंने 1998 में जिंबाब्वे के विरुद्ध खेला था.

योगराज सिंह 

योगराज सिंह भारत के पूर्व ऑलराउंडर खिलाड़ी युवराज सिंह के पिता हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि योगराज सिंह ने भी भारतीय टीम के लिए क्रिकेट खेला. उनका क्रिकेट करियर कुछ खास नहीं रहा. उन्हें भारत के लिए केवल एक टेस्ट मैच और 6 वनडे मैच खेलने का मौका मिला.

विनय कुमार 

विनय कुमार प्रतिभा के धनी थे. लेकिन उन्हें बहुत ज्यादा सफलता नहीं मिली. विनय कुमार को भारत के लिए केवल एक टेस्ट मैच खेलने का मौका मिला था. यह मुकाबला उन्होंने 2012 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था.

कर्ण शर्मा 

कर्ण शर्मा भारत के लिए स्पिनर गेंदबाज के रूप में खेले. उन्होंने 2014 में भारत के लिए एक टेस्ट मैच खेला था. इसके बाद वह गायब हो गए. उनके बारे में अब तो लोगों को याद भी नहीं होगा.

From around the web