इरफान पठान को बेकार समझ रहे थे सौरव गांगुली, लेकिन गेंदबाज ने ऐसा करके बंद कर दिया था दादा का मुंह

इरफान पठान को बेकार समझ रहे थे सौरव गांगुली, लेकिन गेंदबाज ने ऐसा करके बंद कर दिया था दादा का मुंह
 
इरफान पठान को बेकार समझ रहे थे सौरव गांगुली, लेकिन गेंदबाज ने ऐसा करके बंद कर दिया था दादा का मुंह

एक समय ऐसा था जब भारतीय क्रिकेट टीम में इरफान पठान काफी महत्वपूर्ण खिलाड़ी थे. उन्होंने अपने ऑलराउंडर प्रदर्शन से दुनियाभर में काफी नाम कमाया. लेकिन जब इरफान पठान टीम इंडिया में नए-नए आए थे, तब उन पर तत्कालीन कप्तान सौरव गांगुली को बिल्कुल भी भरोसा नहीं था. खुद इरफान पठान ने इस बात का खुलासा किया था कि सौरव गांगुली उन्हें बेकार समझते थे. लेकिन फिर उन्होंने शानदार प्रदर्शन कर दादा का विश्वास जीत लिया और टीम इंडिया में भी अपनी जगह पक्की कर ली.

इरफान पठान को बेकार समझ रहे थे सौरव गांगुली, लेकिन गेंदबाज ने ऐसा करके बंद कर दिया था दादा का मुंह

2007 विश्वकप टीम में इरफान पठान को जगह मिली थी और वह 2011 वनडे विश्व कप जीतने वाली टीम का भी हिस्सा रहे थे. हालांकि शुरुआती करियर में इरफान पठान के ऊपर सौरव गांगुली ने भरोसा नहीं जताया था. 2003 में उन्होंने एडिलेड के मैदान पर अपना डेब्यू किया था और पहली पारी में उन्होंने मैथ्यू हेडन को आउट किया था. उस ट्राई सीरीज में इरफान पठान 10 मैचों में 16 विकेट निकालने में कामयाब रहे और भारतीय टीम के लिए स्टार खिलाड़ी बनकर उभरे. 

इरफान पठान ने जब 19 साल की उम्र में ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था तो तत्कालीन कप्तान सौरव गांगुली उन्हें लेकर ऑस्ट्रेलिया नहीं जाना चाहते थे. उन्हें इरफान पठान पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं था. हालांकि धीरे-धीरे इरफान पठान ने शानदार प्रदर्शन कर सौरव गांगुली का विश्वास जीत लिया और बाद में वह टीम इंडिया के बेहतरीन ऑलराउंडर बन गए. इरफान पठान काफी समय पहले क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं. अब वह कमेंटेटर के रूप में नजर आते हैं.

From around the web