क्रिकेट के इन तीन रिकॉर्ड्स को लोग समझते हैं झूठ, लेकिन सच्चाई जानकर रह जाएंगे दंग

क्रिकेट के इन तीन रिकॉर्ड्स को लोग समझते हैं झूठ, लेकिन सच्चाई जानकर रह जाएंगे दंग
 
क्रिकेट के इन तीन रिकॉर्ड्स को लोग समझते हैं झूठ, लेकिन सच्चाई जानकर रह जाएंगे दंग

भारत में क्रिकेट की लोकप्रियता का अंदाजा तो आप सबको होगा ही. क्रिकेट के मैदान पर आए दिन रिकॉर्ड बनते और टूटते हैं. लेकिन कुछ रिकॉर्ड्स ऐसे हैं, जिन्हें लोग झूठ समझते हैं. हालांकि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है. ये रिकॉर्ड असली है और इनके बारे में जानकर आपको हैरानी भी हो सकती है.

क्रिकेट के इन तीन रिकॉर्ड्स को लोग समझते हैं झूठ, लेकिन सच्चाई जानकर रह जाएंगे दंग

जब एक ओवर में गेंदबाज ने फेंकी 17 गेंद

एक ओवर 6 गेंदों का होता है. लेकिन 2004 में पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच मैच के दौरान गेंदबाज मोहम्मद सामी ने 1 ओवर में 17 गेंद फेंकी थी. दरअसल, उस ओवर में उन्होंने 4 नो बॉल और 7 वाइड गेंद डाली थी और इसी के साथ ये वनडे क्रिकेट इतिहास के सबसे लंबे ओवरों में दर्ज हो गया. 

जब एक दिन में खेली गई टेस्ट मैच की चार पारियां 

टेस्ट क्रिकेट में केवल एक बार ही यह कमाल हुआ है. 2000 में इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच के दौरान ऐसा हुआ था. इस मैच में वेस्टइंडीज की टीम दूसरे दिन खेल के दूसरे पहली पारी में 267 रन पर ढेर हो गई. इंग्लैंड की टीम पहली पारी में जब बल्लेबाजी करने उतरी तो 134 रन बना पाई. इसी दिन वेस्टइंडीज की टीम दूसरी पारी में 54 रन पर ढेर हो गई और दूसरे ही दिन इंग्लैंड की चौथी पारी खेलने उतरी और इस तरह से इस मुकाबले में एक ही दिन दोनों टीमें अपनी दो-दो पारियां खेलने उतरी.

जब द्रविड़ ने लगाए लगातार तीन छक्के 

राहुल द्रविड़ ने लगातार तीन छक्के लगाने का कारनामा 2011 में इंग्लैंड के विरुद्ध खेले गए टी-20 मैच के दौरान किया था. जबकि लोग सोचते हैं कि राहुल द्रविड़ भी छक्का नहीं लगा सकते थे.

From around the web