बीसीसीआई पर हुई पैसो की बारिश तो पूर्व भारतीय क्रिकेटरों की भी लगी लॉटरी, दुगुनी हुई पेंशन राशि

बीसीसीआई पर हुई पैसो की बारिश तो पूर्व भारतीय क्रिकेटरों की भी लगी लॉटरी, दुगुनी हुई पेंशन राशि
 
बीसीसीआई पर हुई पैसो की बारिश तो पूर्व भारतीय क्रिकेटरों की भी लगी लॉटरी, दुगुनी हुई पेंशन राशि

साल 2023 से लेकर 2027 तक के लिए आईपीएल के टीवी अधिकार और डिजिटल अधिकार कुल मिलाकर 107.5 करोड़ रुपए प्रति मैच की संयुक्त राशि में बिके हैं. इसी के साथ आईपीएल दुनिया की सबसे महंगी लीगों की सूची में भी शामिल हो गई है. इससे बीसीसीआई की बहुत कमाई होगी और अब इसका फायदा पूर्व भारतीय क्रिकेटरों को भी होने वाला है.

बीसीसीआई पर हुई पैसो की बारिश तो पूर्व भारतीय क्रिकेटरों की भी लगी लॉटरी, दुगुनी हुई पेंशन राशि

बीसीसीआई पर पैसों की बारिश होते ही बोर्ड ने पूर्व क्रिकेटरों के लिए भी खजाना खोल दिया है. अब बीसीसीआई अपने पूर्व क्रिकेटरों और अंपायरों की पेंशन राशि बढ़ाने का फैसला ले चुका है. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा कि हम अपने पूर्व क्रिकेटरों की आर्थिक स्थिति का ध्यान रखें, यह हमारे लिए जरूरी है. खिलाड़ी बोर्ड के लिए जीवन रेखा की तरह है और यह बोर्ड की जिम्मेदारी है कि खेल से संन्यास के बाद हम उनका ध्यान रखें. अंपायर गुमनाम नायकों की तरह हैं और बीसीसीआई क्रिकेट के खेल में उनके योगदान को समझता है. 

बता दें कि पेंशन राशि को बढ़ाकर बीसीसीआई ने दोगुना कर दिया है. नीलामी के दूसरे दिन तक बीसीसीआई को 46000 करोड़ रुपए की कमाई हो चुकी है. इसके साथ ही बीसीसीआई ने पूर्व महिला और पुरुष क्रिकेटरों के अलावा पूर्व अंपायरों की मासिक पेंशन राशि में बढ़ोतरी की घोषणा कर दी है. अब पहले जिन प्रथम श्रेणी खिलाड़ियों को 15,000 रुपये मिलते थे, उन्हें 30,000 रुपये मिलेंगे. जबकि 37500 पाने वालों को 60,000 और 50,000 पेंशन पाने वालों को 70,000 रुपये की पेंशन मिलने लगेगी.

From around the web