2001 में सौरव गांगुली से छिनने वाली थी टीम इंडिया की कप्तानी, हरभजन सिंह ने सालों बाद किया बड़ा खुलासा

2001 में सौरव गांगुली से छिनने वाली थी टीम इंडिया की कप्तानी, हरभजन सिंह ने सालों बाद किया बड़ा खुलासा
 
2001 में सौरव गांगुली से छिनने वाली थी टीम इंडिया की कप्तानी, हरभजन सिंह ने सालों बाद किया बड़ा खुलासा

सौरव गांगुली भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रहे हैं. सौरव गांगुली की कप्तानी में भारत ने 2001 में ऑस्ट्रेलिया को हराकर ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीती थी. उस समय ऑस्ट्रेलियाई टीम की कमान स्टीव वॉ के हाथों में थी. भारतीय टीम के सीरीज जीतने पर चारों तरफ सौरव गांगुली की तारीफ हुई थी. लेकिन अब उस सीरीज को लेकर भारत के दिग्गज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने बड़ा खुलासा किया है. उस समय हरभजन सिंह 21 साल के थे और उन्होंने उस सीरीज में भारतीय टीम की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

2001 में सौरव गांगुली से छिनने वाली थी टीम इंडिया की कप्तानी, हरभजन सिंह ने सालों बाद किया बड़ा खुलासा

कोलकाता टेस्ट में हरभजन सिंह ने हैट्रिक ली थी और इस सीरीज के बाद हरभजन सिंह का करियर चमक गया और वह स्टार बन कर उभरे. हरभजन ने अब उस सीरीज को लेकर बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि अगर भारतीय टीम उस सीरीज में ऑस्ट्रेलिया से हार जाती तो सौरव गांगुली से भारतीय टीम की कप्तानी छीन ली जाती.

हरभजन ने सौरव गांगुली की तारीफ की. उन्होंने कहा कि गांगुली ने मुझे उस सीरीज में मौका दिया और उससे मुझे नई पहचान मिली. गांगुली ने अगर उस सीरीज में मुझ पर भरोसा ना दिखाया होता तो मुझे मौका शायद नहीं मिलता और यह सब ना हो पाता. उन्होंने मेरे लिए जो किया, मैं उसके लिए हमेशा उनका आभारी रहूंगा. 

हरभजन सिंह ने उस सीरीज में पहले टेस्ट में 4 विकेट चटकाए थे. दूसरे टेस्ट में तो उन्होंने हैट्रिक समेत एक पारी में 7 विकेट और दूसरी पारी में 6 विकेट लिए थे. जबकि तीसरे टेस्ट में हरभजन ने दोनों पारियों में 15 विकेट चटकाए थे. इस तरह हरभजन सिंह का करियर इस सीरीज के बाद बुलंदियों पर पहुंच गया.

From around the web