'कोई तुम्हें एक गाली दे तो तुम तीन गाली देना', भारतीय टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने दिया बड़ा बयान

'कोई तुम्हें एक गाली दे तो तुम तीन गाली देना', भारतीय टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने दिया बड़ा बयान
 
'कोई तुम्हें एक गाली दे तो तुम तीन गाली देना', भारतीय टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने दिया बड़ा बयान

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने हाल ही में एक इंटरव्यू दिया. इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर बात की. रवि शास्त्री ने इस दौरान यह भी बताया कि उन्होंने अपने कोचिंग के दौरान कैसे खिलाड़ियों का एटीट्यूड बदलने की कोशिश की थी. उन्होंने अपनी टीम के खिलाड़ियों को विरोधियों को मुंहतोड़ जवाब देने को कहा था. उन्होंने अपने खिलाड़ियों को सलाह दी थी कि कोई अगर तुम्हें एक गाली दे तो तुम तीन गाली दो. 

'कोई तुम्हें एक गाली दे तो तुम तीन गाली देना', भारतीय टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने दिया बड़ा बयान

रवि शास्त्री ने अपने इंटरव्यू में बताया कि हम आक्रामक होकर खेलते थे, जिससे विरोधी टीम को कोई मौका ना मिले. ऐसे बॉलर्स तैयार करने थे, जो 20 विकेट ले सके. यह पूरी तरह से एटीट्यूड की बात थी. मैंने कहा था कि अगर कोई एक गाली देता है, तो तीन जवाब में दो. इनमें दो अपनी भाषा में और एक उनकी भाषा में.

बता दें कि रवि शास्त्री 2014 से लेकर 2021 तक एक साल को छोड़कर बाकी समय भारतीय टीम के कोच स्टाफ के प्रमुख रहे. इस दौरान एक साल के लिए अनिल कुंबले को मुख्य कोच नियुक्त किया गया था. जब रवि शास्त्री से इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कोच की पोजीशन को लेकर बात हुई. तो उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा कि वह 7 साल कोच रह चुके हैं. उन्हें मालूम है कि यह हर साल 300 दिन की मेहनत मांगती है.

रवि शास्त्री ने यह भी सुझाव दिया कि इंग्लैंड का जो भी कोच बनता है, उसे पूर्व कप्तान जो रूट से बात करके आगे की रणनीति तैयार करनी होगी. बता दें कि रवि शास्त्री की कोचिंग के दौरान भारतीय टीम टेस्ट में नंबर वन बनी थी और भारत ने इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया में जाकर टेस्ट सीरीज में भी जीत हासिल की थी. लेकिन टीम इंडिया कोई भी आईसीसी टूर्नामेंट नहीं जीत पाई.

From around the web