यदि आखरी 12 गेंदों का सामना करते हैं हार्दिक पांड्या और ऋषभ पंत, तो टीम इंडिया को झेलनी पड़ती है हार

यदि आखरी 12 गेंदों का सामना करते हैं हार्दिक पांड्या और ऋषभ पंत, तो टीम इंडिया को झेलनी पड़ती है हार
TheDesiawaaz Desk 
यदि आखरी 12 गेंदों का सामना करते हैं हार्दिक पांड्या और ऋषभ पंत, तो टीम इंडिया को झेलनी पड़ती है हार

भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या और विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत बेहतरीन मध्यक्रम बल्लेबाजों है. कुछ मौकों पर ऋषभ पंत ने भारतीय टीम के लिए ओपनिंग भी की है. पंत और हार्दिक पांड्या के बीच इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की. हालांकि पूर्व पाकिस्तानी कप्तान राशिद लतीफ को को डेथ ओवरों में ज्यादा रन बनाने की उनकी क्षमताओं पर भरोसा नहीं है.

यदि आखरी 12 गेंदों का सामना करते हैं हार्दिक पांड्या और ऋषभ पंत, तो टीम इंडिया को झेलनी पड़ती है हार

पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने बड़ा दावा किया है कि यदि ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या भारतीय टीम के लिए 12 गेंदों के साथ गेद के साथ गेम खत्म करने के लिए छोड़ दिया जाए तो टीम इंडिया के हारने की संभावना ज्यादा है. लेकिन अगर कार्तिक के साथ पंत और हार्दिक को खेलना है तो इसका मतलब है कि शीर्ष क्रम लड़खड़ा गया है.

राशिद लतीफ ने यूट्यूब शो कॉट बिहाइंड पर दिनेश कार्तिक के बारे में बात करते हुए कहा- फ्रेंचाइजी क्रिकेट में दिनेश कार्तिक ठीक हैं. लेकिन जब टीम इंडिया के लिए खेलने की बात आती है तो उसके पास तीन से चार गुणवत्ता वाले बल्लेबाज होते है. 20 ओवरों में वह कहां और कैसे बल्लेबाजी करेंगे. मेरा मानना ​​है कि फ्रेंचाइजी क्रिकेट तक यह ठीक है, लेकिन अगर पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया जैसी अंतरराष्ट्रीय टीमों के खिलाफ उन्हें बल्लेबाजी करने को मिल रहा है, तो इसका मतलब है कि शीर्ष क्रम क्षतिग्रस्त है.

From around the web