पूर्व भारतीय स्पिनर ने बताया 2011 में टीम इंडिया के विश्वकप जीतने का कारण, बोले- धोनी ने ऐसा किया कि......

पूर्व भारतीय स्पिनर ने बताया 2011 में टीम इंडिया के विश्वकप जीतने का कारण, बोले- धोनी ने ऐसा किया कि......
TheDesiawaaz Desk 
पूर्व भारतीय स्पिनर ने बताया 2011 में टीम इंडिया के विश्वकप जीतने का कारण, बोले- धोनी ने ऐसा किया कि......

भारतीय टीम के पूर्व लेफ्ट आर्म स्पिनर गेंदबाज प्रज्ञान ओझा ने 2011 के वनडे विश्व कप का खिताब भारतीय टीम के जीतने को लेकर बड़ा बयान दिया है. बता दें कि भारतीय टीम ने 28 साल बाद धोनी की कप्तानी में 2011 में वनडे विश्वकप जीता था. यह मुकाबला वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया था. जिसमें भारत और श्रीलंका की टीमें आमने-सामने थी. फाइनल मैच में धोनी ने नाबाद 91 रनों की पारी खेली थी और छक्का मारकर टीम इंडिया को जीत दिलाई थी. 

पूर्व भारतीय स्पिनर ने बताया 2011 में टीम इंडिया के विश्वकप जीतने का कारण, बोले- धोनी ने ऐसा किया कि......

हाल ही में पूर्व भारतीय गेंदबाज प्रज्ञा ने बताया- मुझे दृढ़ता से लगता है कि 2011 का विश्व कप हमारे लिए सफल होने का यही कारण था कि एमएस धोनी उन सभी लोगों के बारे में बहुत गंभीर थे, जो मिश्रण में शामिल होने जा रहे थे. 25 या 30 खिलाड़ियों को पहले कम से कम 40 गेम खेलने की जरूरत थी. विश्व कप शुरू हुआ. आपने बहुत रन बनाए होंगे. लेकिन यदि आपके पास विभिन्न परिस्थितियों से निपटने का अनुभव नहीं है, तो आप इसके दौरान महसूस नहीं कर सकते. लेकिन सबसे महत्वपूर्ण खेल नॉकआउट, सेमीफाइनल और फाइनल. तभी वह वास्तव में आपकी मदद करता है. 

इसके साथ ही प्रज्ञान ओझा ने भारतीय टीम में हो रहे बदलाव को लेकर भी बातचीत की. उन्होंने कहा कि जब आपके पास इतना बड़ा पुल रहता है तो उसके नीचे भी अगर आप देखते हैं. तो आपको मौका मिलता है यही सीमित होगा. प्रतिस्पर्धा आमने-सामने की हो गई है. खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. सूर्य कुमार यादव और दीपक हुड्डा का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि दोनों ने इंग्लैंड और आयरलैंड के खिलाफ शतक जड़कर मौके का फायदा उठाया. बस आपको भी मौके भुनाने होंगे.

From around the web