पहले टीम इंडिया से दिखाया बाहर का रास्ता, फिर 'भारत ए' में ड्रिंक सर्व करने के लिए रखा, पूर्व क्रिकेटर ने बयां किया अपना दर्द

पहले टीम इंडिया से दिखाया बाहर का रास्ता, फिर 'भारत ए' में ड्रिंक सर्व करने के लिए रखा, पूर्व क्रिकेटर ने बयां किया अपना दर्द
 
पहले टीम इंडिया से दिखाया बाहर का रास्ता, फिर 'भारत ए' में ड्रिंक सर्व करने के लिए रखा, पूर्व क्रिकेटर ने बयां किया अपना दर्द

भारतीय क्रिकेट टीम में हर खिलाड़ी अपनी जगह बनाना चाहता है. इसके लिए वह कड़ी मेहनत भी करता है. भारतीय क्रिकेट टीम में कई ऐसे खिलाड़ी रहे जो कि डेब्यू करने के बाद कुछ मैच में चमके और बाद में फ्लॉप हो गए. 90 के दशक में भी भारतीय क्रिकेट टीम में कई खिलाड़ी आए, जिनको लेकर आज भी बात की जाती है. 90 के दशक में कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे जिनका नाम केवल क्रिकेट के इतिहास के पन्नों में ही खो कर रह गया.  उन्हीं में से एक क्रिकेटर रहे सलिल अंकोला. जिन्होंने सचिन तेंदुलकर के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था. अब सलिल अंकोला ने अपना दर्द बयां किया है. 

पहले टीम इंडिया से दिखाया बाहर का रास्ता, फिर 'भारत ए' में ड्रिंक सर्व करने के लिए रखा, पूर्व क्रिकेटर ने बयां किया अपना दर्द

हाल ही में सलिल अंकोला ने क्रिकबज से बातचीत की और अपने क्रिकेट करियर के बारे में बताया. सलिल अंकोला ने कहा- एक समय मुझे टीम इंडिया से बाहर कर दिया गया था और मेरा सिलेक्शन भारत ए टीम में किया गया. वहां मुझे मैच खेलने के लिए नहीं बल्कि ड्रिंक ढोने के लिए रखा गया था. 2001 के बाद मैं पूरी तरह से क्रिकेट से दूर हो गया. उसी साल मैंने एक ऐसी गलती की, जिसका मुझे आज तक अफसोस है.

आगे सलिल अंकोला ने कहा- उस समय मुझे सोनी से क्रिकेट को लेकर एक जॉब ऑफर की गई थी, जिसे मैंने ठुकरा दिया. पता नहीं मैंने वह ऑफर क्यों मना किया. लेकिन यह एक गलत फैसला था, जिसका मुझे आज तक पछतावा है. साल 2010 में सलिल अंकोला की निजी जिंदगी में उथल-पुथल मच गई थी और वह शराब के आदी हो गए थे. शराब की लत से दूर जाने के लिए सलिल अंकोला ने एक बार फिर से क्रिकेट मैं वापसी की. पिछले साल वह मुंबई के मुख्य चयनकर्ता के पद पर नियुक्त किए गए. जानकारी के लिए बता दें कि अब सलिल अंकोला मुंबई के मुख्य चयनकर्ता है और वह क्रिकेट में अपना पूरा ध्यान लगा रहे हैं.

From around the web