शारीरिक कमियां होने के बावजूद भी इन क्रिकेटरों ने खूब मचाया धमाल और बने दुनिया के महान खिलाड़ी

शारीरिक कमियां होने के बावजूद भी इन क्रिकेटरों ने खूब मचाया धमाल और बने दुनिया के महान खिलाड़ी
 
शारीरिक कमियां होने के बावजूद भी इन क्रिकेटरों ने खूब मचाया धमाल और बने दुनिया के महान खिलाड़ी

क्रिकेट केवल गेंद और बल्ले का ही खेल नहीं है. क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ियों की शारीरिक और मानसिक मजबूती भी बहुत जरूरी है. विश्व क्रिकेट में कई ऐसे खिलाड़ी बने रहे जिनके अंदर शारीरिक कमियां थी. लेकिन इसके बावजूद भी ये खिलाड़ी दुनिया के महान क्रिकेटर बने.

शारीरिक कमियां होने के बावजूद भी इन क्रिकेटरों ने खूब मचाया धमाल और बने दुनिया के महान खिलाड़ी

मंसूर अली खान पटौदी 

पूर्व भारतीय क्रिकेटर मंसूर अली खान पटौदी ने टीम इंडिया में आक्रामकता भर दी थी. आपको जानकार हैरानी होगी की मंसूर अली खान पटौदी की एक आंख की रोशनी कार दुर्घटना में चली गई थी. उनके साथ यह घटना टीम इंडिया का कप्तान चुने जाने से कुछ महीने पहले ही हुई थी. नवाब पटौदी ने अपने करियर का अधिकांश हिस्सा एक आंख के बिना क्रिकेट खेला. 

मार्टिन गुप्टिल 

न्यूजीलैंड के मार्टिन गुप्टिल के साथ 14 साल की उम्र में एक दुर्घटना हो गई थी, जिस कारण उनके बाएं पांव की तीन उंगलियां काटनी पड़ी थी. उनके बाएं पैर में केवल दो ही उंगलियां है. लेकिन उन्होंने शारीरिक कमी होने के बावजूद भी खुद को साबित किया. 

वसीम अकरम 

पूर्व पाकिस्तानी बॉलर वसीम अकरम जब अपने करियर की बुलंदियों पर थे तब उनको पता चला कि वह मधुमेह से पीड़ित हैं. उस समय अकरम 31 साल के थे. लेकिन उन्होंने मधुमेह के कारण अपने क्रिकेट करियर पर कोई भी रूकावट नहीं आने दी. मधुमेह की बीमारी से लड़ते हुए उन्होंने क्रिकेट में नए-नए रिकॉर्ड बनाए.

शोयब अख्तर

पाकिस्तान के पूरव ऑलराउंडर क्रिकेटर शोयब अख्तर को मेडिकल विकृति थी, जिससे मेडिकल जगत में सनसनी मच गई थी. शोएब अख्तर की कोहानी अधिकतम 20 डिग्री तक मुड़ जाती थी. कई लोगों का यह भी मानना था कि इस कारण गेंदबाजी में उन्हें काफी लाभ मिलता है. हालांकि इस विकृति के कारण शोयब अख्तर जोड़ों में जमा पानी को निकालने के लिए बार-बार इंजेक्शन लेना पड़ता था.

ब्रायन लारा 

वेस्टइंडीज के दिग्गज क्रिकेटर ब्रायन लारा हेपेटाइटिस बी से पीड़ित थे. हालांकि इसका इलाज संभव है. जब ब्रायन लारा को इस बीमारी के बारे में पता चला तो उन्हें लगा कि उनका करियर समाप्त हो जाएगा. लेकिन उन्होंने इस बीमारी से लड़ते हुए नए रिकॉर्ड बनाए.

From around the web