14 साल पहले श्रीसंत को भरे मैदान में जड़ा था तमाचा, अब हो रहा है हरभजन सिंह को पछतावा

14 साल पहले श्रीसंत को भरे मैदान में जड़ा था तमाचा, अब हो रहा है हरभजन सिंह को पछतावा
 
14 साल पहले श्रीसंत को भरे मैदान में जड़ा था तमाचा, अब हो रहा है हरभजन सिंह को पछतावा

आईपीएल के पहले सीजन 2008 में पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह ने श्रीसंत को थप्पड़ मारा था, जिस कारण काफी विवाद हुआ था. अब इस मामले पर हरभजन सिंह ने अपनी सफाई दी है और श्रीसंत को थप्पड़ मारने पर अफसोस जताया है. इस घटना के 14 साल बाद हरभजन सिंह ने अपनी गलती मानी है. 

14 साल पहले श्रीसंत को भरे मैदान में जड़ा था तमाचा, अब हो रहा है हरभजन सिंह को पछतावा

हरभजन सिंह ने घटना पर अफसोस जताते हुए कहा कि मुझे श्रीसंत को थप्पड़ नहीं मारना चाहिए था. उस दिन जो हुआ वह बहुत गलत था. खेल में भावनाएं हमारे साथ रहती हैं. लेकिन उस पर काबू करना होता है. उस दिन जो भी हुआ वह मेरी गलती थी. उस सीजन हरभजन सिंह मुंबई इंडियंस की ओर से खेल रहे थे. जबकि श्री श्रीसंत किंग्स इलेवन पंजाब का हिस्सा थे. इस घटना के 14 बाद हरभजन सिंह को पूरे आईपीएल सीजन के लिए बैन कर दिया गया था. इसके बाद उन्हें पांच वनडे मैचों की सीरीज के लिए भी बैन कर दिया गया था.


इससे पहले भी हरभजन सिंह ने कई मौकों पर इस घटना को लेकर अफसोस जताया था. एक इंटरव्यू के दौरान खुद हरभजन सिंह ने कहा था- श्रीसंत ने काफी नौटंकी कर दी थी. लेकिन मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था. वह मेरी गलती थी. मैंने जो हरकत मैदान पर कि वह सरासर गलत था. मैंने अपनी गलतियों से सीखा है. श्रीसंत को थप्पड़ मैंने नहीं मारा था, लेकिन गलती मेरी ही थी.

From around the web