इलेक्ट्रिक वाहनों की सुरक्षा को लेकर सरकार सतर्क, विशेषज्ञ कर रहे काम : मंत्री

Rachna Sharma 
M

बैटरी आग की आशंकाओं के बीच ईवी दोपहिया वाहनों की बिक्री में गिरावट के बीच, ओकिनावा ऑटोटेक, प्योरईवी और ओला इलेक्ट्रिक ने देश में बैटरी विस्फोट की घटनाओं में वृद्धि के बाद 6,656 वाहनों को वापस बुला लिया है। सरकार ने सूचित किया है कि वह इलेक्ट्रिक वाहनों के सुरक्षा मानकों को लेकर अधिक सतर्क है और विशेषज्ञ काम पर हैं।

E

लोकसभा में एक सवाल का जवाब देते हुए भारी उद्योग राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि सरकार ने ईवी दोपहिया वाहनों में बैटरी विस्फोट की घटनाओं को गंभीरता से लिया है और एक विशेषज्ञ पैनल इसकी जांच कर रहा है।
मंत्री ने बताया कि वापस बुलाए गए 6,656 ईवी में से ओकिनावा ऑटोटेक ने 3,215 यूनिट्स, प्योरईवी ने 2,000 ईवी और ओला इलेक्ट्रिक ने 1,441 यूनिट्स को वापिस बुलाया है।
गुर्जर ने जानकारी दी, "इलेक्ट्रिक वाहनों के सुरक्षा संबंधी हालिया मुद्दों से निपटने के लिए विशेषज्ञ समिति को जिम्मेदारी दी गई है। ईवी के लिए पुर्जो का परीक्षण प्रासंगिक मानकों के अनुसार किया जाता है, जैसा कि अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए केंद्रीय मोटर वाहन नियम, 1989 के नियम 126 में निर्दिष्ट है।"
मंत्री ने अपने जवाब में कहा कि विशेषज्ञ समिति "डीआरडीओ (रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन) और भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी), बेंगलुरु और नौसेना विज्ञान और प्रौद्योगिकी प्रयोगशाला (एनएसटीएल), विशाखापत्तनम के स्वतंत्र विशेषज्ञों के साथ इलेक्ट्रिक वाहनों के सुरक्षा संबंधी हालिया मुद्दों से निपटने के लिए गठित की गई थी।"
उन्होंने कहा कि सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों के सुरक्षा मानकों को लेकर सतर्क है।
डेटा तब आया जब एथर एनर्जी ने जून में 3,829 वाहनों की बिक्री से जुलाई के पूरे महीने में केवल 1,279 ईवी दोपहिया वाहनों (संख्या में भारी गिरावट) की बिक्री की। इसके बाद ओला इलेक्ट्रिक ने जून में 5,891 वाहनों में से 3,852 वाहनों की बिक्री की।
उद्योग के विशेषज्ञों के अनुसार, ईवी दोपहिया वाहनों की बिक्री में गिरावट, हाल के दिनों में कई बैटरी आग और विस्फोट की घटनाओं के आलोक में ईवी दोपहिया वाहनों की सुरक्षा को लेकर उपभोक्ताओं के बीच डर के कारण है।
केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने पिछले महीने संसद को बताया था कि उन सभी ईवी दोपहिया कंपनियों को कारण बताओ नोटिस दिया गया है जिनके वाहनों में बैटरी की समस्या के कारण आग लग गई थी।
मंत्रालय ने बैटरी, बैटरी के पुर्जो और संबंधित प्रणालियों के लिए सुरक्षा मानकों का सुझाव देने के लिए विशेषज्ञों की एक समिति का गठन किया।
सीसीपीए को ईवी दोपहिया खरीदारों से कई शिकायतें मिली हैं।

From around the web