Loading...

बनवाना है छोटे बच्चों का आधार कार्ड तो होने चाहिए ये डाक्यूमेंट्स, जानें पूरा प्रोसेस

0 4

आज के समय में हर व्यक्ति का आधार कार्ड होना बहुत जरूरी है. भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने बड़ों के साथ बच्चों का आधार कार्ड बनवाने की भी सुविधा दी है. नवजात शिशु का आधार कार्ड भी बनवाया जा सकता है. बच्चों का आधार कार्ड नीले रंग का होता है .बच्चों के आधार कार्ड में माता या पिता के आधार कार्ड का नंबर लिंक होता है. साथ ही माता या पिता का मोबाइल नंबर भी रजिस्टर्ड होता है.

बच्चों का आधार कार्ड बनवाने के लिए बच्चों के जन्म का प्रमाण पत्र, माता या पिता का आधार कार्ड और माता या पिता का मोबाइल नंबर जरूरी होता है. 5 साल से कम उम्र के बच्चों का बायोमेट्रिक नहीं लिया जाता. जबकि 5 साल से ज्यादा उम्र होने पर बायोमेट्रिक रिकॉर्ड अपडेट कराना पड़ता है. अगर बच्चे की उम्र 5 साल से ज्यादा है तो उसका आधार कार्ड बनवाने के लिए बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र, माता-पिता से संबंध का प्रूफ या जैसे माता-पिता का आधार कार्ड जमा करना होता है.

5 साल से ज्यादा उम्र के बच्चे का बायोमेट्रिक रिकॉर्ड भी सबमिट किया जाता है, जिसे 15 साल का होने पर फिर से अपडेट करवाना पड़ता है. आप आधार कार्ड रजिस्ट्रेशन के लिए पोस्ट ऑफिस, बैंक या आधार सेवा केंद्र पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं, जहां आपको एक इनरोलमेंट फॉर्म भरना होगा. अगर बच्चे का वैलिड प्रूफ नहीं है तो माता-पिता का आधार नंबर भरना होगा. सभी डॉक्यूमेंट के साथ फॉर्म भी सबमिट करना होगा. फॉर्म जमा करने के बाद बच्चे का बायोमेट्रिक रिकॉर्ड लिया जाएगा, जिसमें हाथ की उंगलियों के निशान और आंखों का स्कैन किया जाता है. 90 दिनों के अंदर आधार कार्ड आपके घर पर पोस्ट द्वारा भेज दिया जाता है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.