Loading...

किसानों से जुड़े नए कानून का एक तरफ हो रहा है विरोध, वहीं दूसरी तरफ इस किसान पर हुई पैसों की बारिश

0 8

केंद्र सरकार ने सितंबर में कृषि से जुड़े तीन नए बिल पास किए थे. इन बिलों का देश भर में किसानों ने जमकर विरोध किया. लेकिन अब इन्हीं कामों की वजह से एक किसान मालामाल हो गया है. महाराष्ट्र का एक मक्का उत्पादक हाल ही में बनाए गए कृषि सुधार कानूनों के तहत मुकदमा करने वाला पहला व्यक्ति बन गया. इस किसान ने दो व्यापारियों पर फसल के बदले पैसे नहीं चुकाने के चलते मुकदमा किया जिसके बाद उसे 2,85,000 रुपए मिल गए.

क्या है भुगतान का कानून

सरकार द्वारा जारी नए कानून के मुताबिक, खरीदार को लेन-देन के 3 दिनों के भीतर किसान को भुगतान करना होगा. कुछ राज्यों में किसानों ने इस कानून का विरोध किया, क्योंकि उन्हें डर सता रहा है कि इससे उनकी सौदेबाजी की सुविधा खत्म हो जाएगी और फ्यूचर में बड़ी कंपनियों का एकाधिकार बन जाएगा.

महाराष्ट्र के किसान जितेंद्र भोई के लिए यह कानून वरदान साबित हुआ. इस कानून से किसानों को समय पर पेमेंट मिलेगी और उन्हें इसके लिए खरीदारों के पीछे भागना नहीं पड़ेगा. बता दें कि जितेंद्र भोई ने अपने 18 एकड़ खेत में इस गर्मी में मक्का की फसल उगाई. उन्होंने 19 जुलाई को दो व्यापारियों को 1240 रुपए प्रति कुंतल की दर से 270.95 क्विंटल मक्का बेचने का सौदा किया.

Loading...

लेनदेन मूल्य 332,617 रुपये तय किया गया था. लेकिन व्यापारियों ने 25,000 देकर 15 दिन बाद पूरा पैसा देने का वादा किया. लेकिन उन्होंने 15 दिन में पैसे नहीं दए. इसके बाद जितेंद्र ने अक्टूबर के पहले सप्ताह में अधिकारियों से संपर्क किया और उन्होंने शिकायत दर्ज करने का फैसला किया. शिकायत पर व्यापारियों को बुलाया गया और कुछ समय में जितेंद्र भोई को अपना सारा पैसा मिल गया.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.