Loading...

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने के लिए टीम इंडिया के पास हैं दो मौके, बदल गया है पूरा समीकरण

0 5

कोरोना महामारी की वजह से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप पर काफी असर पड़ा है. ICC फाइनल में जगह बनाने वाली टीमों का फैसला अब अलग तरीके से करने पर विचार कर रही है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने वाली टीमों का फैसला उनके द्वारा खेले मैचों से मिले अंकों के प्रतिशत के आधार पर करने का सोच रही है. लेकिन अंतिम फैसला इस हफ्ते मुख्य कार्यकारियों की समिति करेगी.

रिपोर्ट के अनुसार, विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने वाली टीमों का फैसला उनके द्वारा खेले मैचों से मिले अंकों के प्रतिशत के आधार पर किया जा सकता है. डब्ल्यूटीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, शीर्ष रैंकिंग वाली प्रत्येक नौ टीमें दो साल में 6 सीरीज खेलती है और प्रत्येक सीरीज में 120 अंक दांव पर लगे होते हैं. शीर्ष दो टीमें अगले साल जून में होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाएंगी.

हालांकि नए प्रस्ताव के मुताबिक, अगर भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध सभी चार टेस्ट मैच हार जाती है और इंग्लैंड के खिलाफ पांचो टेस्ट जीत लेती है तो उसके 480 यानी 66.67 अंक हो जाएंगे. लेकिन अगर भारत इंग्लैंड के खिलाफ सभी टेस्ट जीतता है और ऑस्ट्रेलिया से 1-3 से हार जाता है तो उसके 510 या 70.83 प्रतिशत अंक होंगे जो न्यूजीलैंड के अधिकतम संभव प्रतिशत से कुछ अधिक होगा. वहीं अगर भारत इंग्लैंड को पांच टेस्ट मैचों में हरा देता है और ऑस्ट्रेलिया से 0-2 से हार जाता है तो भी उसको नुकसान होगा और न्यूजीलैंड की टीम क्वालीफाई कर सकती है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.