Loading...

अहोई अष्टमी के दिन जरूर करें ये विशेष काम , इससे जल्दी गूंजेगी आपके आंगन में किलकारियां

0 17

हर साल कार्तिक मास में करवा चौथ के ठीक 4 दिन बाद अहोई अष्टमी के दिन मनाया जाता है। इस बार यह व्रत 8 नवंबर यानी रविवार को रखा जाएगा इस दिन महिलाएं अपनी संतान की अच्छी सेहत लंबी आयु के लिए दिनभर निर्जला व्रत रखती हैं। इसके साथ ही इस व्रत से संतान की प्राप्ति होती हैं। इस दिन माता पार्वती की पूजा की जाती है। मान्यताओं के मुताबिक इस दिन विशेष रूप से व्रत करने से संतान बच्चों के जीवन में सुख शांति लाई जा सकती है।

अहोई अष्टमी के दिन जरूर करें ये विशेष काम , इससे जल्दी गूंजेगी आपके आंगन में किलकारियां

ज्योतिषी के मुताबिक अहोई अष्टमी के दिन लाल धागे में चांदी की ना मोतियों से माला बनाएं सिर्फ माला फिर उस माला को अहोई पूजा पर देवी मां को चढ़ाकर संतान प्राप्ति की कामना करें। ऐसा करने से ही जल्दी ही देवी की कृपा आपको मिलेगी।

पूजा के समय देवी मां को सफेद रंग के फूल चढ़ाएं। घर के सदस्यों जितने पौधे लगाएं। साथ ही एक पौधा तुलसी का जरूर लगाएं। शाम को पूजा के बाद तारों को देखकर उनसे संतान प्राप्ति और उनके अच्छे भविष्य की प्रार्थना करें।

माता पार्वती और शिव जी की असीम कृपा पाने के लिए दिन घर पर पारस शिवलिंग लाएं से रोजाना ब्रह्म मुहूर्त में जाकर उसकी पूजा करें और सच्चे दूध से उसका जल अभिषेक करें। ऐसा भाई दूज के दिन तक लगातार करें ऐसा करने से माता पार्वती और शिव जी प्रसन्न होते हैं

Loading...
Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.